देश की प्रमुख लड़ाकू विमान निर्माता कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने देशभर में स्थित अपनी विनिर्माण इकाइयों और कार्यालयों को मंगलवार से 31 मार्च तक बंद कर दिया है। कंपनी ने यह फैसला कोरोना वायरस (कोविड-19) की रोकथाम के लिए कर्नाटक सरकार उठाये गये एहतियाती कदम और निर्देश को देखते हुए लिया है। एचएएल की टाउनशिप में हालांकि जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी।

एचएएल ने एक बयान जारी कर कहा है कि कंपनी की देशभर में स्थित विनिर्माण इकाइयां और दफ्तर 24 मार्च से 31 मार्च तक बंद रहेंगे। जरूरी सेवाओं जैसे मरम्मत, जल आपूर्ति, ऊर्जा और सुरक्षा से जुड़े लोग हालांकि इस दौरान एचएएल के टाउनशिप में ड्यूटी करते रहेंगे। एचएएल के प्रवक्ता गोपाल सुतार ने कहा कि जरूरी सेवाओं से जुड़े सिर्फ कुछ ही लोग की काम करेंगे। शटडाउन से किसी बड़ी परियोजना के प्रभावित होने को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में उन्होंन कहा, ऐसी नहीं होने वाला है। यह सिर्फ एक सप्ताह के लिए किया गया है और इस समय इसके प्रभाव पर ध्यान नहीं दिया जा सकता है। इसको अतिरिक्त काम करके पूरा किया जा सकता है। 

सुतार ने बताया कि कंपनी के दफ्तरों को बंद करने का फैसला कर्नाटक, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और तेलंगाना सरकार द्वारा जारी किये गये आदेशों को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। इस आदेश का उदेश्य बेंगलुरु, नासिक, मुंबई, बराकपुर, लखनऊ, कानपुर और हैदराबाद स्थित इकाइयों और दफ्तरों को बंद करना है। इसी तरह के निर्देश दिल्ली, विशाखापत्तनम, चेन्नई और ताम्ब्रम स्थित एचएएल की इकाइयों को भी दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु स्थित कंपनी मुख्यालय के अन्य विभाग भी बंद रहेंगे और कर्मचारी हर समय फोन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक संचार माध्यमों के जरिये उपलब्ध रहेंगे और जरूरत पडऩे पर उन्हें ड्यूटी के लिए बुलाया जा सकता है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360