कोरोना वायरस का कहर दुनिया के साथ-साथ भारत में भी बढ़ता जा रहा है। सोमवार तक इसके 116 मामले सामने आ चुके हैं। इसमें से 17 विदेशी हैं। दो लोगों की मौत भी हो चुकी है। भारत सरकार की तरफ से लोगों को इसके प्रति जागरूक किया जा रहा है, फैलने से रोकने के लिए कई कदम भी उठाए गए हैं। विदेशों में फंसे भारतीयों को भी सरकार वापस ला रही है। 

दिल्ली की बात करें तो यहां 7 मामले सामने हैं। वहीं एक की मौत हो चुकी है। हरियाणा में 14, केरल में 22, राजस्थान में 2, तेलंगाना में तीन, उत्तर प्रदेश में 12, लद्दाख में 3, तमिलनाडू में 1, जम्मू कश्मीर में 2, पंजाब में एक, कर्नाटक में 6 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। कर्नाटक में भी कोरोना के चलते एक की मौत हो चुकी है। वहीं महाराष्ट्र में सर्वाधिक 32 मामले सामने आए हैं। आंध्र प्रदेश, उत्तराखंड और ओडिशा में अभी तक एक-एक मरीज में कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। 

वहीं इंग्लैंड में एक नवजात शिशु में भी कोरोना वायरस का संक्रमण पाया गया है। वह दुनिया में सबसे कम उम्र का कोरोना का मरीज है। जब बच्चे का जन्म नहीं हुआ था तो उसकी मां को निमोनिया की शिकायत थी। जांच रिपोर्ट नहीं आई थी, उससे पहले ही बच्चे का जन्म हो गया। जन्म के बाद बच्चे को भी बुखार था और उसकी भी जांच की गई। नवजात की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इससे अब सवाल खड़े हो गए हैं कि कोरोना का संक्रमण गर्भ में भी हो सकता है। पहले की रिपोर्ट कहती हैं कि ऐसा संभव नहीं है। डॉक्टर यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर बच्चा वायरस के संपर्क में कैसे आया। बच्चे को उसी अस्पताल में रखा गया है, जबकि मां को दूसरे हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360