आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी ने मंगलवार को वैक्सीन बुलेटिन जारी करते हुए कहा कि दिल्ली में 18 से 45 उम्र तक के युवाओं के लिए कोवैक्सीन का स्टॉक खत्म हो चुका है। वहीं कोवीशील्ड का 18 से 45 वर्ष तक के युवाओं के लिए सिर्फ तीन दिन का स्टॉक बचा है।

आतिशी ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से पर्याप्त वैक्सीन की आपूर्ति नहीं की गई तो हमारे पास वैक्सीनेशन प्रोग्राम रोकने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं होगा। हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए कोवैक्सीन का 5 दिन और कोवीशील्ड का 4 दिन का स्टॉक उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में अभी तक सबसे ज्यादा 10 मई को 1,39,261 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग, हेल्थ केयर वर्कर और स्कूल कर्मचारियों को बधाई देते हैं। केंद्र सरकार से केजरीवाल सरकार अनुरोध करती है कि दिल्ली ने सबसे ज्यादा कहर इस बीमारी का झेला है। इसलिए दिल्ली के लोगों के लिए कोवैक्सीन और कोवीशील्ड के स्टॉक जल्द उपलब्ध करवाएं। हमें सूचना मिली है कि दिल्ली को कोवीशील्ड की 2,67,690 वैक्सीन मंगलवार शाम तक केंद्र सरकार की तरफ से मिल जाएंगी।

आतिशी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर का दिल्ली और देश के हर परिवार पर असर पड़ा है। ऐसे में वैक्सीन ही एकमात्र तरीका है जिसके माध्यम से इस बीमारी से बच सकते हैं। दिल्ली का हर नागरिक अब चाहता है कि उनको जल्द से जल्द वैक्सीनेशन हो। दिल्ली में अभी दो श्रेणी में वैक्सीनेशन हो रहा है। पहली श्रेणी में हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन लगायी जा रही है। इस श्रेणी के लिए दिल्ली को अभी तक 43,20,490 वैक्सीन मिली हैं। दिल्ली में 11 मई की सुबह तक इसमें से 39.22 लाख वैक्सीन लगायी जा चुकी हैं और 3.98 लाख वैक्सीन उपलब्ध हैं। इसके अलावा 18 से 45 वर्ष तक के लोगों के वैक्सीनेशन के लिए दिल्ली को अभी तक कुल 5.50 लाख डोज मिली हैं। जिसमें कोवैक्सीन की 1.50 लाख और कोवीशील्ड की 4 लाख डोज शामिल हैं। इनमें से सोमवार की शाम तक 3.30 लाख वैक्सीन लगायी जा चुकी हैं और 2.19 लाख डोज मौजूद थीं।