बिहार में चार और कोरोना संक्रमित की मौत होने से इस वायरस से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 88 हो गई है। स्वास्थ्य सचिव लोकेश कुमार सिंह ने सूचना एवं जनसंपर्क सचिव अनुपम कुमार और अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) जितेंद्र कुमार के साथ कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों की अद्यतन जानकारी साझा करने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शनिवार को आयोजित नियमित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि कोरोना संक्रमण के कारण पटना में दो तथा किशनगंज और भागलपुर में एक-एक समेत कुल चार और लोगों की मौत हुई है। सभी पुरुष हैं, जो कोरोना संक्रमण के अलावा अन्य गंभीर बीमारियों से ग्रसित थे। 

पटना में जिन 2 लोगों की मौत हुई है उनमें एक समस्तीपुर के निवासी हैं और दोनों की उम्र 57 वर्ष है। इसी तरह किशनगंज में संक्रमण से जान गंवाने वाले की उम्र 55 और भागलपुर के व्यक्ति की उम्र 35 वर्ष है। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व पटना में 11, दरभंगा, नालंदा, रोहतास और सारण में पांच-पांच, बेगूसराय, पूर्वी चंपारण और मुजफ्फरपुर में चार-चार, भोजपुर, गया, जहानाबाद, खगड़यिा, नवादा, समस्तीपुर, सीतामढ़ी और वैशाली में तीन- तीन, मधुबनी, सीवान और पश्चिम चंपारण में दो-दो तथा अररिया, अरवल, औरंगाबाद, भागलपुर, जमुई, कैमूर, कटिहार, किशनगंज, मधेपुरा, मुंगेर और शिवहर में एक-एक संक्रमित व्यक्ति की मौत हो चुकी है। 

सिंह ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 277 कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर घर लौट गए हैं। इस तरह अब तक 8488 लोग कोविड-19 संक्रमण से जंग जीत चुके हैं। बिहार में संक्रमितों के स्वस्थ होने की दर 74.09 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में 7930 सैंपल की जांच हुई है जिसमें 546 के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। राज्य में अब तक दो लाख 51 हजार 97 सैंपल की जांच की गई है। अभी राज्य में कोरोना संक्रमण के 2880 एक्टिव मामले हैं। सूचना एवं जनसंपर्क सचिव अनुपम कुमार ने कहा कि विदेश से बिहार के 9534 लोग 68 विमान के जरिए गया अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आए। इनमें से 2351 अपने खर्चे से निर्धारित क्वॉरेंटाइन में रहे जबकि 7183 सरकार की ओर से बनाए गए क्वॉरेंटाइन में 14 दिनों तक रहे। 

कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को लेकर सरकार की ओर से सभी आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं। राशनकार्ड विहीन सुयोग्य परिवारों का सर्वे कराने के बाद 23 लाख 35 हजार 895 राशन कार्ड बनकर तैयार है। इनमें से आठ लाख 47 हजार 353 कार्ड का वितरण भी कर दिया गया है। शेष का वितरण 15 जुलाई तक कर लेना है। उन्होंने बताया कि रोजगार सृजन सरकार की प्राथमिकता है और लॉकडाउन अवधि से लेकर अभी तक चार लाख 78 हजार से अधिक योजनाओं के तहत लगभग नौ करोड़ 59 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है। राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) जितेंद्र कुमार ने बताया कि अनलॉक दो के तहत जारी दिशा-निर्देश का अनुपालन कराया जा रहा है। पिछले 24 घंटे के दौरान 644 वाहन जब्त किये गये हैं और 23 लाख 21 हजार की राशि जुर्माने के रुप में वसूल की गई है।