बिहार में भागलपुर जिले के कहलगांव प्रखंड मुख्यालय स्थित बी.पी.वर्मा महाविद्यालय में बने क्वारंटाइन केंद्र पर व्याप्त बदइंतजामी से गुस्साए प्रवासी मजदूरों ने जमकर हंगामा किया और भागकर बाजार पहुंच गए। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि हैदराबाद से भागलपुर पहुंचे करीब डेढ़ सौ प्रवासी मजदूरों को कल देर रात को कई बसों से इस क्वारंटाइन केंद्र पर लाया गया था, जहां आज बुनियादी सुविधाओं के अभाव से मजदूर नाराज हो गए थे। 

नाराज मजदूरों ने घंटों हंगामा मचाया और वहां से भागकर मुख्य बाजार पहुंच गये। इस दौरान बाजार की कई दुकानों एवं सडक़ों पर मजदूरों की भीड़ को देख लोगों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया और इसकी जानकारी स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी एवं पुलिस को दी। सूत्रों ने बताया कि स्थानीय प्रशासनिक और पुलिस के अधिकारियों ने मौके पर पहुंच कर लोगों के सहयोग से बाजार से सभी मजदूरों को वापस क्वारंटाइन केंद्र पहुंचाया और वहां पर मजदूरों के लिए बुनियादी सुविधाओं की व्यवस्था करवाई। नोडल पदाधिकारी की देखरेख में इस क्वारंटाइन केंद्र पर मजदूरों के लिए बुनियादी सुविधाओं के साथ साथ स्वास्थ्य की जांच भी चल रही है। 

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है और पिछले 24 घंटे के दौरान देश के विभिन्न हिस्सों में इसके 2680 नये मामले सामने आने के कारण इससे प्रभावित होने वाले लोगों की संख्या 60 हजार के करीब पहुंच गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक देश के विभिन्न राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में इससे अब तक 59662 लोग प्रभावित हुए हैं तथा 1981 लोगों की मौत हुई है। वहीं अब तक 17847 लोग ठीक हुए हैं और उन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है।