बिहार के पश्चिम चंपारण जिले में आज पांच नए मरीज मिलने के बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 383 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग के सचिव लोकेश कुमार सिंह ने सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार,अपर पुलिस महानिदेशक(मुख्यालय) जितेंद्र कुमार और आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद डू के साथ आज यहां वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पश्चिम चंपारण में पांच नए मरीज के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। 

इससे राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 383 हो गई है। पश्चिम चंपारण के योगापट्टी में जिन पांच लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है वे सभी प्रवासी मजदूर हैं और 25 अप्रैल को दिल्ली के आजादपुर मंडी इलाके से यहां आए हैं। इनमें दो पुरुषों की उम्र 27-27 वर्ष, दो पुरुषों की 35-35 वर्ष और एक पुरुष की उम्र 40 वर्ष है। इस तरह राज्य में अब तक हाल के दिनों में अन्य प्रदेशों से आए 43 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इस बीच बक्सर से यहां प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार, सभी 12 लोग 16 अप्रैल की जांच रिपोर्ट में संक्रमित पाए गए 35 वर्ष के एक युवक और 67 वर्ष के एक वृद्ध के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। दोनों व्यक्ति पश्चिम बंगाल के आसनसोल से बक्सर जिले में डुमरांव थाना क्षेत्र के नया भोजपुर स्थित अपने घर लौटे थे। 

इन्हें तबलीगी जमात का सदस्य बताया जाता है। आसनसोल से 30 मार्च को आये इन दो व्यक्तियों के संक्रमण की श्रृंखला ने पूरे कस्बे को अपना शिकार बना लिया है। कस्बे में संक्रमित व्यक्ति से खैनी खाने वाले, पेट्रोल भरने वाला, परचून की दुकान चलाने वाला, यहां तक कि कपड़े धोने वाला तक संक्रमित हो गया है। नया भोजपुर की आधी आबादी क्वारंटीन है। इलाके को रोज सैनिटाइज किया जा रहा है। साथ ही तीन किलोमीटर तक के इलाके को कंटेनमेंट जोन में रखा गया है। गौरतलब है कि बिहार में अबतक कुल 28 जिले कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें से 92 मरीजों के साथ मुंगेर जिला राज्य का बड़ा कोरोना हॉटस्पॉट है। इन संक्रमितों में से 11 स्वस्थ हो चुके हैं जबकि एक मरीज की मौत हो चुकी है। वहीं पटना में पॉजिटिव मरीजों की संख्या 39 है, जिनमें से पांच ठीक हो गए हैं। नालंदा में 35 संक्रमितों में से छह कोरोना को मात दे चुके हैं। रोहतास में 31 मरीज हैं। सीवान में 30 में से 22 अस्पताल से घर लौट चुके हैं। बक्सर के 38 में से एक स्वस्थ हो गया। 

कैमूर में 18 संक्रमितों का इलाज चल रहा है। गोपालगंज में 18 में से तीन, बेगूसराय में नौ में से पांच, भोजपुर में नौ में से एक कोरोना से जंग जीत चुके हैं। औरंगाबाद में सात मरीज हैं। गया में छह में से पांच, भागलपुर में पांच में से एक स्वस्थ हो गए हैं। वहीं पूर्वी चंपारण और मधुबनी में मरीजों की संख्या पांच-पांच हैं। लखीसराय में चार में से एक, नवादा में चार में से दो, सारण में चार में से एक ठीक हो गए हैं जबकि जहानाबाद एवं अरवल में चार-चार और बांका में तीन मरीज अभी भी बीमार हैं। वैशाली के दो पॉजिटिव मरीज में से एक की मौत हो चुकी है। मधेपुरा, दरभंगा, पूर्णिया, अररिया, शेखपुरा और सीतामढ़ी में एक-एक मरीज का इलाज चल रहा है।