बिहार में एक साथ 36 मरीजों के कारोना संक्रमित होने की पुष्टि के बाद राज्य में पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 326 हो गई। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि आज अपराह्न आई स्वाब सैंपल जांच रिपोर्ट में मुंगेर जिले में जमालपुर के सदर बाजार क्षेत्र के नौ, भोजपुर के सात, पटना में छह, औरंगाबाद एवं मधुबनी में पांच-पांच, लखीसराय के तीन एवं सारण में एक मरीज के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि की गई है। 

कुमार ने बताया कि जमालपुर के सदर बाजार के संक्रमितों में पांच पुरष एवं चार महिलाएं शामिल हैं। पुरुषों में दो की उम्र 45-45 वर्ष एवं अन्य की 07 वर्ष, 10 वर्ष और 16 वर्ष है। वहीं, सात वर्ष की एक बच्ची जमालपुर की रहने वाली है। इसके अलावा तीन अन्य महिलाओं की उम्र 22 वर्ष, 35 वर्ष और 36 वर्ष है। प्रधान सचिव ने बताया कि पटना के नौबतपुर में 02 वर्ष का बच्चा भी संक्रमण की चपेट में आ गया। इसके अलावा मछली गली, राजाबाजार में 25 एवं 36 वर्ष के दो पुरुष, न्यू पाटलिपुत्र कॉलोनी में 23 वर्ष का युवक, फुलवारी में 39 साल का एक व्यक्ति और बीपीएससी, बेली रोड में 28 साल की एक महिला पॉजिटिव पाई गई है। 

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव कुमार ने बताया कि भोजपुर जिले में पांच पुरुष और दो महिला संक्रमित पाई गई हैं। इनमें से 27 वर्ष, 31 वर्ष की दो महिला एवं 18 साल का एक युवक भोजपुर के रहने वाले हैं। वहीं, 08 साल का एक बच्चा और 65 साल का वृद्ध गौसगंज के, 16 वर्ष का एक किशोर बिहिया का और 20 साल का एक युवक नाला रोड का रहने वाला है। कुमार ने बताया कि पांच पॉजिटिव मरीज के साथ मधुबनी 23वां संक्रमित प्रभावित जिला बन गया है। पुलिस लाइन की 27 वर्ष की एक महिला का संक्रमित होना इस जिले के लिए थोड़ी चिंता की बात है। इसी तरह कलुआही में भी एक महिला पॉजिटिव पाई गई है। उन्होंने बताया कि मधुबनी जिले में करहारा, मधुपुर में 34 वर्ष का एक तथा झंझारपुर में 30 और 32 वर्ष के दो पुरुष संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। 

प्रधान सचिव ने बताया कि औरंगाबाद में पवई निवासी 50 वर्षीय एक महिला के साथ ही चार पुरुष के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। जमहोर में 20 वर्ष, 28 वर्ष के दो युवक तथा पवई के रहने वाले दो लोगों में से एक की उम्र 20 वर्ष और दूसरे की 40 वर्ष है। इसी तरह लखीसराय में हल्सी की रहने वाली सात साल की बच्ची तथा लखीसराय के दो पुरुष हैं जिनकी उम्र 24 वर्ष और 38 वर्ष है। वहीं सारण जिले में 46 वर्षीय एक व्यक्ति के भी संक्रमण की चपेट में आने की पुष्टि हुई है। कुमार ने बताया कि जमालपुर में वलीपुर के मरीज 15 अप्रैल की रिपोर्ट में सक्रमित पाए गए 60 वर्षीय तबलीगी जमात के सदस्य से बनी कोरोना चेन की चपेट में आने से पॉजिटिव हुए हैं। 

इससे पूर्व आज सुबह आई रिपोर्ट में वलीपुर के ही 13 अन्य लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। इस तरह आज अभी तक जमालपुर में कुल 22 नए मरीज मिले हैं। कुमार ने बताया कि राज्य में कोरोना संक्रमण की चपेट में कुल 23 जिले आ गए हैं। मुंगेर 90 लोगों के संक्रमित होने और नालंदा 34 मरीजों के साथ बिहार में कोरोना पॉजिटिव के दो बड़े हॉटस्पॉट बन गए हैं। मुंगेर के कुल संक्रमितों में से 11 ठीक हो चुके हैं जबकि एक की मौत हो चुकी है। इसी तरह नालंदा के कुल पॉजिटिव मरीजों में से छह स्वस्थ हुए हैं। वहीं, सीवान में 30 संक्रमितों में से 18 ठीक हो चुके हैं। पटना में संक्रमितों की संख्या बढक़र 39 हो गई और इनमें से पांच स्वस्थ हो चुके हैं। बांका में दो, जहानाबाद और मधेपुरा में संक्रमितों की संख्या एक-एक है। वहीं, भोजपुर में बीमारों की संख्या बढक़र नौ हो गई और इनमें से एक स्वस्थ हो गए। औरंगाबाद में सात, मधुबनी में पांच, रोहतास में 15 और कैमूर में 14 मरीज पॉजिटिव हैं। वैशाली में दो मरीज संक्रमित हुए, जिनमें से एक की मौत हो चुकी है। 

नवादा में तीन में से दो और सारण में चार में से एक स्वस्थ हो चुके हैं। गया में छह में से पांच ठीक हो गए हैं। गोपालगंज में 12 में से तीन को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है। लखीसराय में मरीजों की संख्या बढक़र चार हो गई, जिनमें से एक महिला मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुकी हैं। वहीं, पूर्वी चंपारण में पॉजिटिव की संख्या पांच और अरवल में चार हो गई है। भागलपुर में संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र पांच हो गई है, जिनमें से एक ठीक होकर घर लौट चुके हैं। बेगूसराय के नौ संक्रमित मरीजों में से एक स्वस्थ हो गया है। इसके अलावा बक्सर में पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढक़र 25 हो गई है।