असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमन्त विश्व शर्मा ने लोगों से वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप से नहीं घबराने की अपील करते हुए कहा कि राज्य में लॉकडाउन और रात्री कर्फ्यू लागू करने की कोई संभावना नहीं है। 

शर्मा ने कहा कि मैं सभी लोगों से आग्रह करता हूं कि यदि किसी व्यक्ति में लक्षण पाए जाते हैं तो वे अपनी जांच करवा लें। किसी को घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन हम सभी को सर्तक जरूर रहना चाहिए। राज्य में लॉकडाउन लागू होने या रात्रि कर्फ्यू लगाने की कोई संभावना नहीं है। शर्मा ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि असम में अगले सात दिनों में कोविड-19 के स्क्रिनिंग को बढ़ाकर एक लाख कोविड-19 जांच किया जाएगा। ताकि हमलोग पारंपरिक तरीके से बिहू पर्व को मना सकें। 

उन्होंने कहा कि हमारे सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों के टीकाकरण किए गए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में ज्यादा जांच होने के कारण ज्यादा कोरोना वायरस की संख्या में बढ़ोतरी होगी, लेकिन इससे किसी को घबराने की जरूरत नहीं है, पर सर्तक रहना जरूरी है। गौरतलब है कि शर्मा ने हाल ही में एक न्यूज वेबसाइट को इंटरव्यू में दावा किया था कि यह जरूरी नहीं है कि असम के लोग मास्क पहनकर ही बाहर निकलें। इस बारे में पूछे जाने पर शर्मा ने कहा कि जो लोग मास्क पर दिए मेरे बयान का मजाक उड़ा रहे हैं, उन्हें असम आना चाहिए और देखें कि हमने अपनी अर्थव्यवस्था की प्रभावशाली वसूली के साथ-साथ दिल्ली, केरल, महाराष्ट्र जैसे राज्यों की तुलना में हमने कोविड-19 पर कैसे काबू पाया है।