वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड 19) के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर असम के सभी चाय बागानों को अगले दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया है। असम टी ट्राइब स्टूडेंट्स एसोसिएशन (एटीटीएसए) ने एक बयान में कहा कि सोमवार से अगले 48 घंटों के लिए राज्य के सभी चाय बागानों को बंद कर दिया है। 

एटीटीएसए के अध्यक्ष धीरज गोवाला और महासचिव पवन बेदिया ने औद्योगिक विवाद अधिनियम 1948 के प्रावधानों के तहत चाय बागान के प्रबंधन से श्रमिकों के वेतन और भत्ते में कटौती नहीं करने का आग्रह किया है। चाय बागान के श्रमिक आज सुबह काम के लिये चाय बागान में आये लेकिन एटीटीएसए के सदस्यों ने श्रमिकों को घर भेजा दिया। 

इस बीच राज्य में रविवार को जनता कर्फ्यू के पूर्ण समर्थन के एक दिन बाद आज राज्य में लोग सामान्य कामकाज पर लौटे हैं। राज्य सरकार प्रदेशवासियों से बार-बार प्रतिबंधों का पालन करने की अपील कर रही है। सरकार ने एहतियातन अंतराज्यीय वाहनों की आवाजाही पर पहले ही प्रतिबंध लगा दिया है। राज्य में ट्रेन सेवाओं को भी रद्द किया गया है और कोरोना के प्रकोप से हवाई सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं। इसके अलावा राज्य में शैक्षणिक संस्थान, जिम, ब्यूटी सैलून, पब, संग्रहालय और पुस्तकालय भी बंद हो गए हैं। राज्य में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण का कोई भी पॉजीटिव मामला सामने नहीं आया है।

उधर, कोरोना वायरस के मद्देनजर गुवाहाटी के लोकप्रिय गोपीनाथ बोरदोलोई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से सोमवार को 17 उड़ानों को रद्द कर दिया गया। हवाई अड्डा प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने बताया कि पारो से गुवाहाटी जाने वाली ड्रूक एयरलाइंस की उड़ान को रद्द कर दिया गया है। इसके अलावा अन्य स्थगित उड़ानों में स्पाइसजेट की आठ, गोएयर की पांच, इंडिगो की दो और विस्तारा की एक विमान शामिल है। पिछले दो दिनों से पूर्वोतर के अन्य हिस्सों से भी उड़ानें रद्द की गयी हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360