ओडिशा के कोविड ग्राफ में गुरुवार को राज्य में 1,897 ताजा मामले (Corona virus cases in Odisha) दर्ज किए गए। 31 दिसंबर को 228 मामले सामने आये थे, 2 और 3 जनवरी को 424, 4 जनवरी को 680 और 5 जनवरी को 1,216 कोरोना केस सामने आये। 0-18 वर्षों के बच्चों के 258 सहित 1,897 ताजा कोरोना मामलों में से 1,106 मामले क्वारंटीन केंद्रों से और 791 स्थानीय संपर्क मामलों के रूप में सामने आए। सूचना और जनसंपर्क (आई एंड पीआर) विभाग के अनुसार, कोविड संक्रमण अब ओडिशा के सभी 30 जिलों में फैल गया है।

सुंदरगढ़ (262), कटक (148), संबलपुर (125) और बालासोर (100) के बाद खोरधा जिले में सबसे अधिक 669 मामले दर्ज किए गए हैं। इन पांच जिलों में कुल नए मामलों का 68.7 प्रतिशत हिस्सा था। गुरुवार को कोविड के कारण एक और मौत की पुष्टि के साथ, राज्य में कोरोना संक्रमण (covid19) से मरने वालों की संख्या बढ़कर 8467 हो गई। इस बीच, राज्य में सक्रिय मामलों में भी पिछले सप्ताह के दौरान बड़ी उछाल देखी गई। गुरुवार को सक्रिय मामले 1,518 (31 दिसंबर) से बढकऱ 5,739 हो गये हैं।

ओडिशा (Corona cases in Odisha) के 30 जिलों में से केवल खोरधा जिले को 2,167 सक्रिय मामलों के साथ येलो जोन घोषित किया गया है। अन्य सभी जिलों को ग्रीन जोन के रूप में चिह्नित किया गया है। निदेशक स्वास्थ्य सेवाएं बिज्या महापात्र ने कहा, ओडिशा और अन्य राज्यों में भी कोविड के मामले बढ़ रहे हैं। हालांकि, गंभीरता अब तक कम रही है। राज्य सरकार स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन (Omicron Cases in Odisha) के मामले राज्य के लगभग सभी जिलों में भी फैल गए हैं। निदेशक ने लोगों से अपील की कि वे सरकार द्वारा जारी किए गए कोविड -19 प्रोटोकॉल और निर्देशों का सख्ती से पालन करें।

कोविड -19 टीकाकरण (covid-19 vaccination) के लिए राज्य नोडल अधिकारी, बिजय पाणिग्रही ने बुधवार को कहा कि 1125 केंद्रों पर 15 से 18 वर्ष की आयु के 80,972 लोगों का टीकाकरण किया गया। उन्होंने कहा कि अब तक ओडिशा में किशोरों को 2,64,690 खुराक दी जा चुकी है। पाणिग्रही ने कहा कि राज्य में लगभग 27 लाख पात्र लोगों ने कोविड के टीके की पहली खुराक नहीं ली है।