ओडिशा में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के नये मामले घट कर 7729 रह गये, जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7,98,699 हो गयी। गत 29 मई के बाद से पहली बार दैनिक मामले आठ हजार से नीचे आये। इससे पहले 28 मई को कोरोना के 7,188 नये मामले सामने आया था। शुक्रवार को सामने आये नये मामलों में से 4331 क्वारंटीन केंद्रों से तथा 3398 स्थानीय संपर्क के मामले हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने दावा किया कि राज्य के कई जिलों में पिछले कुछ दिनों में नए कोविड मामलों में उल्लेखनीय गिरावट देखी गयी है और राज्य की कुल सकारात्मकता दर (टीपीआर) और गिरकर 11.2 प्रतिशत हो गई है। गुरुवार को 10,434 लोगों के स्वस्थ होने के साथ ही राज्य में संक्रमणमुक्त होने वालों की संख्या 7,13,055 हो गई। पिछले 12 दिनों के दौरान, दैनिक आधार पर स्वस्थ होने के मामले दैनिक पाए जाने वाले कोरेाना मामलों से अधिक हो गए थे। इस दौरान सक्रिय मामले भी घटकर 82,679 हो गए। राज्य के 30 में से सात जिलों में अब 1000 से कम सक्रिय मामले हैं। खोरधा जिले में 11,470 सक्रिय मामले हैं, जो राज्य में सबसे ज्यादा हैं जबकि नुआपाड़ा जिले में सबसे कम 412 सक्रिय मामले हैं। 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पिछले तीन जून की मध्यरात्रि तक राज्य में करीब 1,20,40,830 लोगों की कोरोना जांच की गई और इनमें से 7,98,699 लोग यानी करीब 6.63 प्रतिशत लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। पिछले 24 घंटों के दौरान, 39 और कोविड रोगियों ने विभिन्न कोविड अस्पतालों में इलाज के दौरान वायरस से दम तोड़ दिया। इनमें खोरधा जिले के अधिकतम छह और अंगुल, झारसुगुड़ा, कालाहांडी, रायगड़ा और सुंदरगढ़ के तीन-तीन मरीज शामिल हैं। राज्य के छह जिलों में दो-दो मौतें हुईं और अन्य छह जिलों में एक-एक मौत दर्ज की गई। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस बीच मुख्यमंत्री राहत कोष (सीएमआरएफ) से कटक नगर निगम को कोविड प्रबंधन को और मजबूत करने के लिए 15 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं।