दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Health Minister Satyendar Jain) ने सोमवार को कहा कि दिसंबर 2021 के आखिरी दो दिनों में देखे गए कोविड के 84 फीसदी मामले ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron Variants) के हैं। हालांकि उन्होंने जोर देकर कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि दिल्ली की तीन प्रयोगशालाओं - आईएलबीएस, एलएनजेपी और एनसीडीसी से कुल जीनोम सीक्वेंसिंग रिपोर्ट में से 84 प्रतिशत मामले ओमिक्रॉन वैरिएंट के पाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में रविवार को 3,194 कोविड मामले (Corona virus cases in Delhi) दर्ज किए गए और कोविड की पॉजिटिविटी रेट 4.59 प्रतिशत हो गई है। उन्होंने कहा, आज शाम तक लगभग 4,000 कोविड मामलों सामने आने के साथ ही पॉजिटिविटी रेट बढकऱ 6.5 प्रतिशत होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार, दिल्ली में सप्ताह के भीतर ही कोविड अपने चरम पर पहुंच सकता है। हालांकि, उन्होंने कहा कि वैश्विक रिपोर्टों के अनुसार, ओमिक्रॉन (Omicron cases in delhi) की संख्या बहुत जल्द बढ़ जाती है और यह तुरंत नीचे भी आ जाती है। इसलिए ओमिक्रॉन के लिए घबराने की जरूरत नहीं है।

उछाल के बीच अस्पताल में भर्ती होने के बारे में जैन ने कहा कि अभी तक केवल 200 लोग ही अस्पतालों में भर्ती हैं। उन्होंने कहा, घबराने की जरूरत नहीं है, लेकिन सतर्क रहने और कोविड के उचित व्यवहार का पालन करने करना चाहिए। ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron) के लिए अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता कम ही है। उन्होंने आगे कहा, पिछले दो वर्षों के अनुभव से पता चलता है कि हम कोविड से मास्क और उचित व्यवहार से लड़ सकते हैं... हम इस वैरिएंट से भी लड़ेंगे।