देश में कोरोना तेजी से फिर से बढ़ता ही जा रही है। कोरोना वैक्सीन आने के बाद भी कोरोना पर नियंत्रण नहीं किया जा रहा है। कोरोना नए रूप में आकर अटैक कर रहा है। महाराष्ट्रा की राजधानी मुंबई में कोरोना ने कोहराम मचा दिया है। मुंबई में ही कोरोना वायरस के 3 हजार नए मामले सामने आए है। बृहन्मुंबई नगरपालिका बताया कि 14 मार्च से लेकर 19 मार्च के बीच सिर्फ मुंबई में ही कोरोना वायरस के 13,912 नए मामले सामने आए हैं।

मुंबई में कोरोना बहुत ही तेजी से फैलता ही जा रहा है। कोरोना के  बढते हुए  मामलों को देखते हुए सरकार ने मुंबई की 305 इमारतें सील कर दी हैं। मुंबई में क दिन के भीतर 3 हजार मामले सामने आ रहे हैं जो कि अक्टूबर 2020 के बाद सबसे ज्यादा है। इन दो हफ्ते में मुंबई में सबसे ज्यादा रिकॉर्ड टूटा है। 18 मार्च को मुंबई में कोविड के 2,877 केस आए और 19 मार्च को यहां 3,620 मामले दर्ज किए गए है।

एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी माने जाने वाले मुंबई के धारावी इलाके में 18 मार्च को कोरोना वायरस के 30 नए मामले सामने आए, बता दें कि यहां अगर कोरोना जोर मारता है तो काबू पाना मुश्किल हो जाएगा। सरकार को सबसे ज्यादा डर इसी बात का है। महाराष्ट्रा सरकार ने कुछ इलाकों में लॉकडाउन लागू कर दिया और कुछ इलाकों में नाइट कर्फ्यू भी लगाया है। अभी तक मुंबई में कोई नाइट कर्फ्यू या लॉकडाउन लागू नहीं किया गया है।