यूपी में अब लखनऊ के बाद वाराणसी और कानपुर में भी नाइट कर्फ्यू लग गया है। वाराणसी में कोरोना वायरस पर प्रभावी नियंत्रण के लिए महामारी अधिनियम के तहत सख्ती बढ़ाई जाएगी। ये सख्ती 8 अप्रैल से एक हफ्ते तक लागू रहेगी।

वाराणसी में रात के 9 बजे से सुबह तक रात्रि कर्फ्यू लगाया जाएगा। सुबह का समय अभी प्रशासन की ओर से तय नहीं किया गया है। चिकित्सा, नर्सिंग और पैरा मेडिकल संस्थानों को छोड़ कर सभी सरकारी, गैर सरकारी, निजी विद्यालय, महाविद्यालय, शैक्षणिक संस्थान और कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। केवल परीक्षा और प्रैक्टिकल परीक्षा के समय मे विद्यालय या महाविद्यालय खोलने की छूट दी जाएगी।

सख्ती की अवधि में पारिवारिक सामाजिक और पारंपरिक धार्मिक आयोजनों को छोड़कर पांच से अधिक लोगों के राजनैतिक, सामाजिक और किसी भी अन्य कार्यक्रम के आयोजन की अनुमति नहीं दी जाएगी। सभी पार्क, स्टेडियम सुबह और शाम कुछ घंटे ही खुलेंगे। घाट पर आरती भी छोटे स्तर पर की जाएगी और इनमें आम जनता के शामिल होने पर भी रोक रहेगी। दूध, सब्जी मंडी, दवा की दुकान के लिए रियायत रहेगी। यात्रियों को, रात की शिफ्ट के कर्मचारियों और मालवाहक गाड़ियों के आवागमन के लिए भी रियायत रहेगी।

कानपुर नगर में आज से रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात का कर्फ्यू लागू रहेगा. जिला प्रशासन ने कोरोना के लगातार बढ़ते ग्राफ को देखते हुए शहर में 8 अप्रैल से 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है. कक्षा 12 तक के सभी शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे. परीक्षा और प्रैक्टिकल संपन्न कराने की इजाजत दी जाएगी. 30 अप्रैल तक पाबंदियां लागू रहेंगी. गौरतलब है कि लखनऊ में भी जिला प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है.