ब्रिटेन में कोरोना वायरस ने चिंता बढ़ा दी है। यहां इन दिनों हर रोज कोरोना के केस में इज़ाफा हो रहा है। फरवरी के बाद से कोरोना वायरस संक्रमण के सर्वाधिक मामले सामने आए हैं। ये इस बात के संक्ते हैं कि संक्रमण का डेल्टा वेरिएंट देश में तेजी से फैल रहा है। सरकारी आंकड़ों में बुधवार को बताया गया कि ब्रिटेन में संक्रमण के 7,540 नए मामले सामने आए, जो 26 फरवरी के बाद से एक दिन में आने वाले सबसे ज्यादा मामले हैं।

बता दें कि डेल्टा वेरिएंट के संक्रमण के कारण पिछले कुछ सप्ताह से ब्रिटेन में दैनिक मामले बढ़ रहे हैं। देश में संक्रमण के कारण 1,27,860 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि यहां अब तक 44 लाख से ज्यादा लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं।

लगातार बढ़ रहे हैं केस

इस साल जनवरी के दूसरे हफ्ते में ब्रिटेन में हर रोज़ 70 हजार केस सामने आ रहे थे। ऐसे में 7 हजार की संख्या इसके मुकाबले बेहद कम हैं। लेकिन मरीज़ों के लगातार बढ़ते ट्रेंड ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। कई एक्सपर्ट इसे तीसरी लहर की आहट के तौर पर पर देख रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक इन दिनों यहां बच्चों में कोरोना का संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है।

पिछले हफ्ते स्कॉलैंड में एक हज़ार से ज्यादा बच्चे कोरोना के शिकार हुए। बता दें कि ब्रिटेन में इन दिनों ज्यादातर स्कूल खिले हैं। कहा जा रहा है कि ब्रिटेन में कोरोना के नए वेरिेएंट के केस 75 फीसदी से ज्यादा हैं। इसके चलते संक्रमण की दर काफी ज़्यादा बढ़ गई है।