बिहार में कोरोना विषाणु का संक्रमण फैलने के संभावित खतरे को देखते हुए भागलपुर जिले के कहलगांव के निकट पालकालीन पुरातत्व स्थल विक्रमशिला महाविहार में बड़ी संख्या में आने वाले बौद्ध धर्मावलंबी एवं पर्यटकों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है वहीं, गंगा महाआरती का आयोजन भी रद्द कर दिया गया है।


भागलपुर के जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने आज यहां बताया कि इस सिलसिले में राज्य सरकार की ओर से जारी निर्देश के आलोक में इस संक्रमण को लेकर विक्रमशिला महाविहार आने वाले बौद्ध धर्मावलंबी एवं पर्यटकों की बढ़ती भीड़ को ध्यान में रखते हुए वहां पर सभी के प्रवेश पर 31 मार्च 2020 तक रोक लगाई गई है।


कुमार ने बताया कि इस दौरान खासकर, विदेशी पर्यटकों की आवाजाही पूर्णतया बंद कर दी गई है। उन्होंने बताया कि यदि वे (विदेशी) किस सरकारी अतिथिशाला और होटल में रुकते हैं तो स्थानीय पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी इसकी जानकारी एकत्र कर उनका मेडिकल जांच करवायेंगे।