तमिलनाडु में 8 दिसंबर को हुए हेलिकॉप्टर हादसे (Helicopter Crash) में जान गंवाने वाले लांस नायक बी. साई तेजा (lance Naik bogla sai teja) का पार्थिव शरीर रविवार को आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में उनके पैतृक गांव लाया गया है। उनका शव बेंगलुरु से घर पहुंचने पर कुराबाला कोटा मंडल के एगुवा रेगाडा गांव में सैकड़ों लोग पहुंचे। पार्थिव शरीर पहुंचने के बाद तेजा के माता-पिता, पत्नी, बच्चे और परिवार के अन्य सदस्य गमगीन हो गये।

राष्ट्रीय ध्वज में लिपटे इस पार्थिव शरीर को लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। सेना और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों, विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं और आसपास के गांवों के लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। शहीद सैनिक का अंतिम संस्कार सैन्य सम्मान के साथ किया जाएगा। साई तेजा चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) के व्यक्तिगत सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) के रूप में कार्यरत थे। जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत (Madhulika Rawat) और साई तेजा सहित 11 अन्य कर्मियों की तमिलनाडु में कुन्नूर के पास कट्टेरी में दुर्घटनाग्रस्त एमआई-17वी5 हेलिकॉप्टर में मृत्यु हो गई।

सिपाही के शव की शिनाख्त शनिवार को हुई और उसे सडक़ मार्ग से बेंगलुरु से उनके गांव लाया गया। बड़ी संख्या में युवा जो हाथों में राष्ट्रीय ध्वज लिए हुए थे और ‘साई तेजा अमर रहे’ के नारे लगा रहे थे, अपनी मोटरसाइकिलों के साथ जुलूस में शामिल हुए। साईं तेजा (bogla sai teja) (27) के परिवार में पत्नी श्यामला, 4 वर्षीय पुत्र मोक्षगना और 2 वर्ष की एक पुत्री दर्शिनी हैं। कुरुबा समुदाय से ताल्लुक रखने वाले साई तेजा 2012 में एक सिपाही के रूप में भारतीय सेना (Indian Army) में शामिल हुए थे। बैंगलोर रेजिमेंट में सेवा करते हुए, उन्हें पैरा कमांडो ट्रेनिंग (para commando training) के लिए चुना गया था। पिछले साल उन्हें सीडीएस का पीएसओ नियुक्त किया गया था।

आंध्र प्रदेश सरकार (Government of Andhra Pradesh) ने शनिवार को साई तेजा के परिवार को 50 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी है।मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी (Y.S. Jagan Mohan Reddy), पंचायत राज मंत्री पेड्डीरेड्डी रामचंद्र रेड्डी और आबकारी मंत्री के. नारायण स्वामी ने साईं तेजा के घर का दौरा किया और परिवार को चेक सौंपा था। परिजनों ने साई तेजा की पत्नी से सरकारी नौकरी की गुहार लगाई है। रामचंद्र रेड्डी ने कहा कि वह अनुरोध को मुख्यमंत्री के संज्ञान में लाएंगे और आवश्यक कार्रवाई करेंगे।