कांग्रेस की उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने प्रदेश इकाई के पिछड़ा वर्ग विभाग द्वारा आयोजित 'नदी अधिकार यात्रा' की सराहना करते हुए शनिवार को कहा कि यह लड़ाई निषाद समुदाय की जीविका से जुड़ी है, इसलिए इस संघर्ष में वह पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ खड़ी हैं। 

वाड्रा ने यहां जारी बयान में कहा कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस, पिछड़ा वर्ग विभाग की नदी अधिकार यात्रा 19 दिन से 418 किमी चलकर निषाद समाज के बीच जाकर उनके हक की आवाज उठा रही है। निषाद नदियों के राजा और रक्षक हैं। नदी के संसाधनों पर उनका हक है। उन्होंने कहा,' निषाद समाज के गांव-गांव से एक ही आवाज उठ रही है कि उनकी सुख-दुख की साथी नदियों के संसाधनों बालू, मछली, नदी किनारे की जमीन इत्यादि के इस्तेमाल को बड़े पूजीपतियों-ठेकेदारों के चंगुल से निकालकर निषादों को इनके उपयोग का हक मिलना चाहिए। ये उनकी जीविका का सवाल है और हम निषाद समाज की जीविका के हक को दिलाने की लड़ाई पूरी प्रतिबद्धता से लड़ेंगे।'

कांग्रेस महासचिव ने इस यात्रा को उचित ठहराते यात्रा के आयोजकों को धन्यवाद दिया और कहा,' यात्रा की अगुवाई कर रहे देवेंद्र निषाद, कुंवर निषाद (विधायक) वंदना निषाद तथा यात्रा में शामिल सभी साथियों का मैं दिल से धन्यवाद करती हूँ।'