कांग्रेस ने अपने सभी राज्यसभा सदस्यों को सदन में नागरिकता कानून संशोधन विधेयक, 2019 पेश होते समय मौजूद रहने का ह्विप जारी किया है। नई दिल्ली में कांग्रेस नेता आनंद शर्मा से मुलाकात के बाद असम कांग्रेस अध्यक्ष रिपुन बोरा ने यह जानकारी दी।



एआईसीसी महासचिव और असम कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत की अगुवाई में प्रदेश कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल में नेता विधायक दल देवब्रत साइकिया भी शामिल थे। बोरा के मुताबिक सभी विपक्षी पार्टियों ने राज्यसभा में नागरिकता कानून संशोधन विधेयक का विरोध करने पर सहमति जताई है। इस बीच कांग्रेस के सभी राज्यसभा सांसदों को इस दौरान सदन में मौजूद रहने को कहा गया है। राज्यसभा का अधिवेशन गुरुवार से प्रारंभ होगा।


आप को बता दे कि राज्यसभा में कांग्रेस के 54 सदस्य है और अगर कांग्रेस पार्टी नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध में वोट करती है तो नागरिकता संशोधन बिल सरकार को पास कराना मुश्किल हो जाएगा।