हैलाकांदी जिले के पंचायत चुनाव में एआईयूडीएफ का जादू चला, इस बात पर कोई संदेह नहीं है। यह तय हो चुका है कि अब एआईयूडीएफ हैलाकांदी जिले में जिला परिषद बोर्ड का गठन करेगा। गौतम राय और उनके पुत्र अब सड़े हुए आलू हो चुके हैं, कांग्रेस को अब उन्हें फेंक देना चाहिए। एआईयूडीएफ विधायक अनवर हुसैन लस्कर ने यह कटाक्ष किया।

पंचायत चुनाव और जिला परिषद के गठन के संबंध में हैलाकांदी में पत्रकारों से बात करते हुए हैलाकांदी के विधायक अनवर हुसैन लस्कर ने उपोक्त बातें कहीं। उन्होंने कहा कि हैलाकांदी वासियों ने दिल खोलकर एआईयूडीएफ को चुना है। इसके अतिरिक्त अनवर ने हैलाकांदी जिले में हुई कांग्रेस की करारा हार पर कहा कि हैलाकांदी में पूर्व मंत्री गौतम राय व पूर्व विधायक राहुल राय अब कोई फैक्टर नही हैं। ये दोनों सड़े आलू के समान हैं। जिस तरह एक बारी में एक सड़ा आलू पूरे आलू को सड़ा देता है, वैसे ही पूर्व मंत्री गौतम राय और राहुल राय बराक कांग्रेस के लिए सड़े आलू के समान हैं। इन्हें पार्टी से निकाल कर फेंक देना चाहिए।

उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि जब गौतम राय हैलाकांदी में सड़े आलू के समान हो चुके हैं तो उन्हें अब भाजपा में शामिल हो जाना चाहिए। उन्होंने आज हुए पुनर्मतदान के बारे में बताया कि इससे एआईयूडीएफ का कुछ नहीं बिगड़ेगा। अन्य पार्टियों की मुरादें पूरी नहीं होंगी। हैलाकांदी में एआईयूडीएफ ही जिला परिषद बोर्ड का गठन करेगा। उन्होंने जिला प्रशासन को धन्यवाद देते हुए कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं कि प्रशासन ने बहुत बढ़िया चुनाव संपन्न करवाया है। जिलाधिकारी आदिल खान पर किसी की दाल नहीं गली है। कोई दबाव नहीं बना पाया है। अब आनेवाला समय यह तय करेगा कि गौतम राय सड़े हुए आलू हैं और वह भाजपा में जाते हैं या फिर हैलाकांदी में कांग्रेस को फिर से पटरी पर लाते हैं।