कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि देश में मोदी सरकार विकास की बात करती है, जबकि भाजपा ने पांच साल के शासनकाल में झारखंड का कबाड़ा कर दिया। लोगों से रोजगार छीना गया है। जेपीएससी से पांच वर्षों के दौरान एक भी बहाली नहीं हुई। सिर्फ बाताें से पेट नहीं भरने वाला। जुमलेबाजी बंद कर नाैजवानाें के हाथाें काे काम देना हाेगा।  उन्होंने ये बाते झारखंड के दौरे के दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही।


उन्हाेंने झरिया, जाेरापाेखर और रांची के रातू में सभाएं की। सिंधिया ने कहा कि भारत की खनिज संपदा में 40% भागीदारी झारखंड की है, लेकिन यहां के युवा बेरोजगार हैं। झारखंड के मुख्यमंत्री ने कहा था कि राज्य में 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराएंगे, पर राजधानी में भी अंधेरा रहता है। बिजली नहीं मिली और बिल चार गुना बढ़ा दिया। झारखंड के आदिवासियाें से जमीन छीनी जा रही है।


भाजपा पूंजीपतियाें के लिए काम कर रही है। हटिया विधानसभा क्षेत्र के रातू मेला मैदान में उन्होंंने कहा-यह लड़ाई कुर्सी के लिए नहीं है। यह लड़ाई उन लाेगाें काे सत्ता से बेदखल करने के लिए जाे देश में नफरत और आतंक की राजनीति कर रहे हैं। यह लड़ाई लोगों के दिल में जगह बनाने के लिए है। इसलिए जुमलेबाजी में न फंसे। सिंधिया ने कहा कि झारखंड के काेयले से देश राेशन हाेता है लेकिन यहीं अंधेरा है। गठबंधन की सरकार  आई ताे झारखंड में रात में भी राेशनी हाेगी।

उन्हाेंने कहा-किसान, मजदूर और नाैजवान बेहाल हैं, वहीं मुठ्ठी भर लाेग मालामाल हाे रहे हैं। पांच साल में राज्य सरकार ने यहां के लाेगाें पर लाेन दाेगुना कर दिया। कांग्रेस गठबंधन के सत्ता में आते ही किसानाें का धान का समर्थन मूल्य 2500 रुपए प्रति क्विंटल दिया जाएगा। उन्हाेंने कहा कि यह राज्य सरकार अंतिम सांस ले रही है। सरकार की विदाई का वक्त आ गया है। इस बार गठबंधन की युवा सरकार बनेगी। सिंधिया काे रातू आने में देरी हाे गई थी।


उन्हें सेवा विमान पकड़ना था, इसलिए वे दाैड़ते हुए मंच पर चढ़े। जल्द भाषण समाप्त किया भागते हुए चले गए। हटिया विधानसभा क्षेत्र के रातू मेला मैदान में उन्होंंने कहा-यह लड़ाई कुर्सी के लिए नहीं है। यह लड़ाई उन लाेगाें काे सत्ता से बेदखल करने के लिए जाे देश में नफरत और आतंक की राजनीति कर रहे हैं। यह लड़ाई लोगों के दिल में जगह बनाने के लिए है। इसलिए जुमलेबाजी में न फंसे।