उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों (UP Assembly Elections) से पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। दरअसल प्रियंका गांधी ने बरेली सीट से सुप्रिया एरन (supriya aron joins sp) को टिकट दिया था, लेकिन एक सप्ताह बाद ही सुप्रिया का कांग्रेस से मोहभंग हो गया और उन्होंने समाजवादी पार्टी (SP) का दामन थाम लिया। एरन ने अपने पति और कांग्रेस की सरकार में मंत्री रहे प्रवीण सिंह एरन (Praveen Singh Aron) के साथ सपा की सदस्यता ग्रहण कर ली।

इस मौके पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि पार्टी में सुप्रिया ऐरन (supriya aron) का स्वागत है। वो कोई बाहर से पार्टी में नहीं आई हैं वो पहले सपा में ही थीं। यूपी में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने जा रही है। जनता समाजवादी पार्टी की तरफ देख रही है। उल्लेखनीय है कि इससे पहले रामपुर जिले की चमरौआ सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी यूसुफ अली यूसुफ ने भी टिकट मिलने के बाद सपा में शामिल होने की घोषणा कर दी, लेकिन सपा से टिकट नहीं मिलने पर उन्होंने अपनी गलती स्वीकार कर प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) से माफी मांगते हुये खुद को फिर से कांग्रेस का सिपाही बता दिया। 

इस दौरान संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुये अखिलेश (Akhilesh Yadav) ने कहा कि चुनाव के बाद जब सपा की सरकार बनेगी तब सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में 22 लाख नौजवानों को रोजगार से जोडऩे का काम होगा। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में बने एचसीएल कैंपस में 5000 से ज्यादा लोगों को सीधे तौर पर नौकरियां मिली है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के लिए सात चरणों में चुनाव (UP Assembly Elections) होंगे। पहले चरण के लिए वोटिंग 10 फरवरी को होगी। इसके बाद दूसरे चरण के लिए 14 फरवरी, तीसरे 20 फरवरी, चौथे 23 फरवरी, पांचवें 27 फरवरी, छठे 3 मार्च और सातवें चरण के लिए 7 मार्च को वोटिंग होगी। 10 मार्च को मतगणना होगी।