झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास एवं उनके कार्यकाल के महत्वपूर्ण अधिकारियों के खिलाफ 100 करोड़ रुपये से अधिक के कथित घोटाले का आरोप लगाते हुए भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) में शिकायत दर्ज कराई गई है। 

सूचना का अधिकार (आरटीआई) एक्टिविस्ट एवं स्वयंसेवी संगठन जन सभा के महासचिव पंकज कुमार की ओर से एसीबी में दर्ज कराई गई शिकायत में पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रघुवर दास के साथ ही उनके कार्यकाल में मुख्य सचिव रहीं भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की वरिष्ठ अधिकारी राजबाला वर्मा, मुख्यमंत्री के पूर्व प्रधान सचिव डॉ. सुनील कुमार वर्णवाल एवं उद्योग सचिव के. रविकुमार के खिलाफ निवेशक सम्मेलन ‘मोमेंटम झारखंड’ के नाम पर 100 करोड़ रुपये से अधिक के कथित घोटाला करने का आरोप लगाया गया है। 

शिकायत में मोमेंटम झारखंड के आयोजन में हुए खर्च पर भी सवाल उठाए गए हैं। गौरतलब है कि वर्ष 2017 में इंद्रनील सिन्हा की ओर से मोमेंटम झारखंड में गलत करीके से करोड़ों रुपए खर्च करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने की मांग वाली याचिका को झारखंड उच्च न्यायालय ने सितंबर 2018 में खारिज कर दिया था। मुख्य न्यायाधीश अनिरुद्ध बोस और न्यायमूर्ति डी. एन. पटेल की खंडपीठ ने याचिका पर सुनवाई के दौरान कहा था कि याचिकाकर्ता साक्ष्यों के आधार पर एसीबी में मामला दर्ज कराएं। 

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360