देश के अधिकांश भाग सहित मध्य प्रदेश में शीतलहर ने अपना जोर दिखाना शुरू कर दिया है।  उत्तरी पहाड़ों से आ रही बर्फीली सर्द हवाओं से पिछले 2 दिनों से अचानक तापमान नीचे आ गया है।  मौसम विभाग ने येलो एलर्ट जारी किया है. तापमान 3 से 5 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहेगा। 

मौसम विभाग के मुतााबिक उमरिया में 3, दतिया में 3.8, गुना में 4.8, खजुराहो में 5, शाजापुर में 5.3, रीवा में 4, ग्वालियर में 4.1, नौगांव में 3.9, रायसेन में 5 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान दर्ज किया गया।  इनमें सबसे कम तापमान उमरिया में रहा।  प्रदेश के रीवा, शहडोल, सागर, जबलपुर, ग्वालियर एवं चंबल संभागों में शीत लहर चली।  पिछले 24 घंटों के दौरान न्यूनतम तापमान शहडोल संभागों के जिलों में काफी गिरा, राज्य के शेष संभागों के जिलों में न्यूनतम तापमान कोई विशेष परिवर्तन नहीं हुआ। 

ग्वालियर, सागर, शहडोल एवं भोपाल संभाग के जिलों में सामान्य से काफी कम व उज्जैन संभाग के जिलों में सामान्य से कम व शेष संभागों के जिलों में सामान्य रहा।  प्रदेश में सबसे कम न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सैल्सियस उमरिया में दर्ज किया. मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि आगामी 24 घंटों में चंबल संभाग के जिलों में तथा उज्जैन, राजगढ़, शाजापुर, दतिया, उमरिया जिलों में कहीं कहीं शीतल दिन चलने की संभावना है।  इसके साथ ही ग्वालियर, चंबल एवं शहडोल संभागों के जिलों में रीवा, सतना, सागर एवं छतरपुर जिलों में कहीं कहीं शीत लहर चलने की संभावना है।  इसके साथ ही ग्वालियर, दतिया, भिंड, रीवा, उमरिया एवं छतरपुर जिलों में कहीं कहीं पाला पडऩे की आशंका है। 

मध्य प्रदेश के रीवा, शहडोल, सागर, जबलपुर, ग्वालियर और चंबल संभागों में पिछले 24 घंटे से शीत लहर चल रही है।  इनमें से कई स्थानों पर रविवार सुबह तक सर्द मौसम बना रहने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है।  भारत मौसम विभाग (आईएमडी) के भोपाल कार्यालय के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी जीडी मिश्रा ने शनिवार को बताया कि ग्वालियर, चंबल और शहडोल के साथ ही रीवा, सतना, सागर और छतरपुर में कुछ स्थानों पर रविवार सुबह तक शीत लहर चलेगी. उन्होंने कहा, मध्य प्रदेश के 30 में से नौ मौसम केंद्रों में शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे तक समाप्त 24 घंटे की अवधि में तीन डिग्री सेल्सियस (उमरिया में) से पांच डिग्री सेल्सियस के बीच तापमान दर्ज किया गया।  कई केंद्रों पर न्यूनतम तापमान तीन से लेकर 10 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया गया. भोपाल का न्यूनतम तापमान 6.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मिश्रा ने कहा कि ये स्थितियां एक सप्ताह तक बनी रहेंगी।