उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पहाड़ी क्षेत्रों में ताजा बर्फबारी के बाद उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप और बढ़ गया। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान लुढ़कर 3.6 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। हरियाणा और पंजाब के कई हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से जारी शीत लहर मंगलवार को और तेज हो गई। जबकि राजस्थान में तेज और ठंडी हवाओं के असर से तापमान में गिरावट दर्ज की गई। उधर, हिमाचल प्रदेश में शीतलहर में जबरदस्त बढ़ोत्तरी हुई। कश्मीर में हल्की बर्फबारी से पर्यटकों में उत्साह देखा गया।  भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, पश्चिमी विक्षोभ के कारण जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में जगह जगह हिमपात हुआ।

दिल्ली भी मंगलवार को शीतलहर से ठिठुरती रही और यहां न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पूरी दिल्ली का औसत तापमान बताने वाली सफदरजंग वेधशाला ने सोमवार रात न्यूनतम तापमान 3.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया, जबकि अधिकतम तापमान 18.1 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से दो डिग्री कम है। विभाग के अनुसार, आया नगर और लोधी रोड मौसम केंद्रों ने न्यूनतम तापमान क्रमश: 2.6 डिग्री सेल्सियस और 2.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

हरियाणा और पंजाब के कई हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से जारी शीत लहर मंगलवार को और तेज हो गई। दोनों राज्यों में हिसार के अलावा, नारनौल, अमृतसर और चंडीगढ़ सहित कई स्थानों पर पिछली रात इस मौसम की सबसे ठंडी रात रही। मौसम विज्ञान विभाग के स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि हिसार में तापमान सामान्य से छह डिग्री नीचे दर्ज किया गया। वहीं अमृतसर में तापमान 0.4 डिग्री सेल्सियस रहा।

हरियाणा के नारनौल में भी तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम 0.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पंजाब में भी ठंड का कहर जारी रहा, जहां लुधियाना में न्यूनतम तामपान 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान विभाग ने दोनों राज्यों में अगले दो दिनों तक भीषण ठंड रहने का पूर्वानुमान लगाया है।

राजस्थान में तेज और ठंडी उत्तरी हवाओं के असर के चलते मंगलवार को अधिकतर स्थानों पर न्यूनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई वहीं कुछ स्थानों पर न्यूनतम तापमान जमाव बिन्दू और उससे नीचे माइनस में दर्ज किया गया। मौसम विभाग के प्रवक्ता के अनुसार राज्य के एक मात्र पर्वतीय पर्यटक स्थल माउंट आबू में तापमान शून्य से नीचे चार डिग्री सेल्सियस, चूरू में जमाव बिन्दु शून्य डिग्री, सीकर में शून्य से नीचे एक डिग्री, पिलानी और भीलवाड़ा में 01-01 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। एक दर्जन जिलों में तेज सर्दी पड़ने की चेतावनी जारी की है और कई जगह कोहरा छाया रहेगा।

हिमाचल प्रदेश में मंगलवार को शीतलहर में जबरदस्त बढ़ोत्तरी हुई और न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस की कमी दर्ज की गई। मौसम विभाग ने इसकी जानकारी दी।    मौसम केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि प्रदेश के डलहौजी, कल्पा, केलांग एवं कुफरी में न्यूनतम तापमान शून्य के नीचे दर्ज किया गया। सिंह ने बताया कि केलांग में 0.6 मिमी हिमपात भी दर्ज किया गया। सिंह ने बताया कि लाहौल स्पीति जिले का प्रशासनिक केंद्र केलांग प्रदेश में सबसे अधिक सर्द स्थान रहा और न्यूनतम तापमान शून्य के नीचे 10.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 

कश्मीर में मंगलवार को हल्की बर्फबारी पर्यटकों और व्यापारियों के लिए खुशियां लाईं, जहां नव वर्ष से पहले हुई बर्फबारी से व्यापारियों को काम बेहतर होने की उम्मीद है। अधिकारियों ने बताया कि श्रीनगर में सुबह सात बजे बर्फबारी हुई। इससे कुछ घंटे पहले बडगाम और पुलवामा जिले में बर्फबारी शुरू हुई थी। उन्होंने बताया कि दक्षिण कश्मीर के कुलगाम और अनंतनाग जिलों में भी बर्फबारी हुई है। अधिकारियों ने बताया कि उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग के स्की रिजॉर्ट में सात इंच बर्फबारी हुई। वहीं दक्षिण में पहलगाम रिजॉर्ट और मध्य कश्मीर के सोनमर्ग रिजॉर्ट में तीन से चार इंच बर्फबारी हुई। अधिकारियों ने बताया कि गुलमर्ग में शून्य से नीचे 7.5 डिग्री सेल्सियस तामपान रहा। गौरतलब है कि कश्मीर में 40 दिन का चिल्ला कलां का दौर चल रहा है। इस दौरान क्षेत्र में कड़ाके की ठंड पड़ती है और सर्दी का आलम यह रहता है कि जल आपूर्ति वाली लाइनों तक में पानी जम जाता है। यह 21 दिसम्बर से शुरू हुआ है और 31 जनवरी को समाप्त होगा।

सूबे का मौसम शुष्क बना हुआ है। न्यूनतम तापमान चढ़ने से ठंड से थोड़ी राहत मिली है। प्रदेश में मंगलवार को सबसे अधिक तापमान डेहरी में 26 डिग्री सेल्सियस, जबकि सबसे कम यानी न्यूनतम तापमान 6.4 डिग्री सेल्सियस गया का रहा। पिछले दिनों की तुलना में राज्य के अधिकतर भाग में रात के तापमान में वृद्धि दर्ज की गई है। सूबे के पश्चिम और मध्य भाग में रात का पारा दो डिग्री चढ़ने से थोड़ी ठंड से राहत मिली है। पूर्वी बिहार में मौसम में किसी तरह का खास बदलाव नहीं है। मंगलवार को पूरे सूबे में दिन के तापमान में भी एक से दो डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। पटना, पूर्णिया और गया में अधिकतम तापमान 23.2 जबकि भागलपुर में 23.6 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। पटना, भागलपुर और पूर्णिया में सुबह में हल्के से मध्यम कोहरा छाया रहा, लेकिन धूप निकलते ही मौसम साफ हो गया।