लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) यूक्रेन से भारत पहुंचने वाले निवासियों को राज्य में पहुंचाने की व्यवस्था करेगी। राज्य सरकार के प्रवक्ता ने शनिवार को बताया कि प्रदेश के स्थानिक आयुक्त को निर्देश हैं कि यूक्रेन से वापस आने वाले प्रदेश के नागरिकों की सुविधा के लिए एयरपोर्ट पर काउंटर स्थापित करें तथा केंद्र सरकार व अन्य सभी संबंधित से समन्वय स्थापित करते हुए जरूरी इंतजाम करें। 

उल्लेखनीय है कि युद्ध के हालात से गुजर रहे यूक्रेन में बसे भारतीय छात्रों की स्वदेश वापसी के लिये विदेश मंत्रालय और भारतीय दूतावास से तालमेल बनाने के लिये राज्य सरकार ने राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद को नोडल अधिकारी बनाया है। साथ ही, प्रदेश में कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है, जिसका टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर (0522) 1070, मोबाइल नंबर 9454441081 तथा ईमेल आईडी राहतञ्चएनआईसी.इन है।

यूक्रेन से सुरक्षित निकाले गए छात्र

युद्ध प्रभावित यूक्रेन से सुरक्षित बाहर निकाले गए छात्रों को लेकर एयर इंडिया का एक विमान यहां दोपहर बाद छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (सीएसएमआईए) पर उतरने की उम्मीद है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। केंद्रीय कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल के अन्य अधिकारियों के साथ हवाई अड्डे पर उनका स्वागत करने की संभावना है। सीएसएमआईए ने एक विशेष कॉरिडोर और सभी आवश्यक सुविधाओं के साथ एआई-1944 द्वारा यहां पहुंचने वाले निकासी को संभालने के लिए खुद को तैयार किया है। केंद्र के दिशानिर्देशों के अनुसार, सभी छात्रों को एक अनिवार्य तापमान जांच से गुजरना होगा और लैंडिंग पर एक कोविड -19 टीकाकरण प्रमाणन या एक नेगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट प्रस्तुत करने की आवश्यकता होगी।