रक्षाबंधन के पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुजुर्ग महिलाओं को त्योहारी दी है। सीएम योगी ने कहा कि जल्द ही 60 साल से अधिक उम्र की महिलाओं को फ्री बस यात्रा की सुविधा दी जाएगी। योगी ने कहा कि हर जिले में इंटरस्टेट, अंतर्जनपदीय बस स्टेशन अच्छी व्यवस्थाओं से युक्त होना चाहिए। वहां डोरमेट्री, रेस्टोरेंट हों,वेटिंग रूम हो।  हमारा प्रयास होना चाहिए कि परिवहन विभाग का लाभांश बढ़े। हर परिवहन वर्कशॉप के साथ आईटीआई के बच्चों को भी जोड़ने का कार्य होना चाहिए।

यह भी पढ़े : Raksha bandhan 2022 : भृगु संहिता के अनुसार 11 अगस्त को रक्षा बंधन मनाना शास्त्रसम्मत, 12 को उचित नहीं


वह बुधवार को अपने सरकारी आवास से रोडवेज की 150 नई बसों को हरी झंडी दिखाने के बाद उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 10 अगस्त को रात्रि 12 बजे से 12 अगस्त की रात्रि 12 बजे तक 48 घंटे की अवधि में महिलाएं रोडवेज की बसों में फ्री यात्रा का लाभ उठा सकेंगी। यह सुविधा रक्षाबंधन के मद्देनजर दी गई है। उन्होंने कहा कि बस अड्डों को भी एयरपोर्ट की तर्ज पर बनाया जा रहा है जहां यात्रियों को सभी जरूरी सुविधाएं मिलेंगी।

यह भी पढ़े : Raksha Bandhan 2022: राखी बांधने के समय को लेकर असमंजस की स्थिति , जानिए कब मनाया जाएगा रक्षा बंधन?


 योगी ने कहा किआने वाले समय मे हम 60 वर्ष से ऊपर की हर एक माताओं को फ्री में यात्रा देने का कार्य करेंगे। कोविड के समय प्रदेश में 23 हजार मौतें हुई,ये देश दुनिया मे सबसे न्यूनतम दर है...जबकि सड़क दुर्घटना में प्रदेश में अकेले एक वर्ष में 20 हजार मौत होती है,ये चिंता और कष्ट का विषय है।।

यह भी पढ़े : राशिफल 10 अगस्त: आज इन राशियों के घर में हो सकता है गृह कलेश, सूर्यदेव को जल अर्पित करें 


कोरोना महामारी में जिस प्रदेश ने प्रबन्धन से विजय प्राप्त की,ढाई वर्ष में 23 हजार मौत हुई,उसी प्रदेश में सड़क दुर्घटना में 20 हजार मौत एक वर्ष में होती हैं,इसके पीछे क्या कारण है,ये हमे ढूंढने की जरूरत है...इसपर हमको कंट्रोल करने में की आवश्यकता है....!! वहीं  परिवहन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार दया शंकर सिंह ने कहा कि ड्राइविंग लाइसेंस की व्यवस्था को पूरी तरह ऑनलाइन कर दिया गया है।