मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) का दौरा किया, जिसमें कई संकाय सदस्यों की कोरोना की वजह से मौत हो गई है। ऐसा करने वाले वह उत्तर प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री हैं।

मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए किए गए प्रबंधों का जायजा लिया और कुलपति तारिक मंसूर, और अन्य अधिकारियों के साथ चर्चा की। दो दिन पहले, आदित्यनाथ ने कुलपति से फोन पर बात की थी और कैंपस में 16 सेवारत और 18 सेवानिवृत्त संकाय सदस्यों की मौतों पर चिंता व्यक्त की थी।उन्होंने कोविड उपचार के लिए दवाओं और ऑक्सीजन सिलेंडर के संदर्भ में हर संभव सहायता का आश्वासन दिया था।

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय में गतिविधियों के बारे में भी जानकारी ली। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय 1920 में सर सैयद अहमद खान द्वारा स्थापित किया गया था और 1921 में केंद्रीय विश्वविद्यालय बना था। आदित्यनाथ वहां की कोविड स्थिति की समीक्षा करने के बाद में आगरा और मथुरा जाएंगे। वह जिला अधिकारियों के साथ बैठकें करेंगे और आवश्यक निर्देश जारी करेंगे।