देशभर में कोरोना टीकाकरण किया जा रहा है। वैक्सीन की कमी आने के बाद वैक्सीनेशन की रफ्तार कम हो गई थी और अब फिर से वैक्सीनेशन के उत्पादन ने फिर से रफ्तार बढ़ा दी है। इसी बारे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 1 जून से प्रदेश के सभी 75 जिलों में 18 से 44 आयुवर्ग वालों के टीकाकरण का निर्देश दिया है। पहले बुजुर्गों का टीकाकरण किया गया था।

टीम-9 संग हुई बैठक में CM ने कहा कि “वैक्सीन कोरोना से सुरक्षा कवच है। लिहाजा अब ग्रामीण इलाकों के साथ ही प्रदेश के सभी जिलों में 18 से 44 आयुवर्ग वालों को 1 जून टीका लगवाने की व्यवस्था की जाए ”। राज्य में अभी सिर्फ 23 जिलों में ही 18 से 44 आयुवर्ग वालों का टीकाकरण किया जा रहा है। कोरोना की दूसरी संभावित लहर की तैयारियों के मद्देनजर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि 10 साल या इससे कम उम्र के बच्चों के माता-पिता को प्राथमिक के आधार पर टीका लगवाया जाए।

सीएम ने बताया कि तीसरी लहर में बच्चे सर्वाधिक रिस्क की श्रेणी में हो सकते हैं, लिहाजा ऐसे बच्चों के माता-पिता को टीका लगवा जाएगा। सीएम योगी ने तीसरी लहर से पहले सभी पात्र लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य भी निर्धारित किया है। बताया जा रहा है कि अगस्त अक्टूबर के बीच देश में कोरोना की तीसरी लहर आ सकती है। बता दें कि यूपी में अब तक 1.62 करोड़ लोगों को निःशुल्क वैक्सीन दी जा चुकी है।