अमेरिकी सेना के अफगानिस्तान से हटने की प्रक्रिया के बीच तालिबान आतंकवादी अधिक जिलों पर कब्जा करने के लिए अपनी गतिविधियां तेज कर रहे हैं। हालांकि, तमाम हिस्सों पर कब्जे को लेकर अफगान सुरक्षा बल आतंकवादी समूह के प्रयासों को विफल करने के लिए जोरदार तरीके से जवाबी कार्रवाई कर रहे हैं। संघर्ष की ताजा लहर में तालिबान ने कंधार शहर, दक्षिणी कंधार प्रांत की राजधानी, तालुकान शहर, उत्तरी तखर प्रांत की राजधानी, कुंदुज शहर, उत्तरी कुंदुज प्रांत की राजधानी और बदघिस प्रांत की राजधानी काला-ए-नौ पर अपने हमले तेज कर दिए हैं।

तालिबान के पूर्व गढ़ कंधार शहर में अधिकारियों ने कहा कि पिछले 24 घंटों में दर्जनों लोग मारे गए हैं और घायल हुए हैं, जिनमें महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। कंधार शहर के मीर वैस अस्पताल के एक डॉक्टर ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि सुबह से नौ बच्चों और एक महिला सहित 18 घायल नागरिकों को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया है। डॉक्टर ने कहा कि दो शवों को भी अस्पताल लाया गया है। सेना के एक अधिकारी सैयद नईम ने कहा कि तालुकान शहर पर तालिबान के हमले को सुरक्षा बलों ने नाकाम कर दिया गया और 12 शवों को छोडकऱ आतंकवादी पीछे हट गए हैं।

आतंकवादियों ने पिछले 24 घंटों में पूर्वी गजनी प्रांत के मलुस्तान और मध्य बामयान प्रांत के कोहमर्ड और सिघन जिलों सहित तीन जिलों पर कब्जा कर लिया है, जिसके दौरान बदख्शां प्रांत के कुरान-वा-मुंजन जिले को सुरक्षा बलों ने वापस ले लिया है। राष्ट्रीय राजधानी काबुल को दक्षिण में कंधार शहर और पश्चिमी हेरात प्रांत से जोडऩे वाले राजमार्ग पर नियंत्रण करने के प्रयास में तालिबान आतंकवादी गजनी प्रांत की राजधानी गजनी शहर पर कब्जा करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। कंधार शहर काबुल से महज 450 किलोमीटर दूर है।