इंग्लैंड का रहने वाला एक शख्स (A person from England ) उत्तर प्रदेश सरकार से पेंशन ले रहा है। मामले की पोल RTI के जरिये खुली। अब इसकी शिकायत सामने आने के बाद पूरी सच्चाई सामने आ गई है। पूरा मामला संतकबीरनगर (​​Sant Kabirnagar ) जिले के शहर कोतवाली खलीलाबाद क्षेत्र के सहसरांव माफी गांव का है, जहां के रहने वाले अब्दुल करीम नाम के शख्स ने तहसील दिवस में इसकी शिकायत की। 

शिकायतकर्ता ने शहर कोतवाली इलाके के मीट मंडी रोड के रहने वाले मौलाना शमशुल होदा (Maulana Shamsul Hoda) के खिलाफ सबूतों के साथ शिकायत करते हुए अफ़सरों से कार्रवाई की मांग की है। शिकायतकर्ता अब्दुल करीम के मुताबिक मौलाना शमशुल होदा ने वर्ष 2013 में इंग्लैंड की (Maulana Shamsul Hoda acquired the citizenship of England) नागरिकता हासिल कर ली।  इंग्लैंड की नागरिकता के साथ वो आजमगढ़ के एक मदरसे में बतौर सरकारी शिक्षक के रूप में नौकरी करता रहा और सैलरी उठाता रहा। 

वर्ष 2017 में उसने वीआरएस ले ली और अब तक पेंशन उठाता चला रहा है।  यह आर्टिकल 66 (violation of Article 66)  का उल्लंघन है।  शिकायतकर्ता को जब आरटीआई के जरिये सभी जानकारियां मिलीं तब उसने इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से की।  शिकायत सामने आने के बाद एडीएम संतकबीरनगर को जांच मिली।  एडीएम स्तर से दो बार नोटिस के बाबजूद मौलाना ने अब तक कोई जबाब नहीं दिया है। 

शिकायतकर्ता ने दोषी मौलाना के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।  इस मामले की शिकायत सीबीआई तक भी पहुंची है, जिसकी जांच अब पुलिस भी कर रही है, लेकिन इस पूरे मामले पर कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने से साफ इंकार कर रहे हैं।