पटना। लोक जनशक्ति पार्टी (Ram Vilas) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के जमुई से सांसद चिराग पासवान (MP Chirag Paswan) ने राज्य में लगातार गिरती हुई विधि-व्यवस्था को देखते हुए राष्ट्रपति शासन (President Rule) लगाने की मांग की है। 

पासवान ने रविवार को यहां के बाकरगंज में दो दिन पूर्व दिनदहाड़े एक स्वर्ण आभूषण की दुकान में लगभग 14 करोड़ रुपए की हुई लूट को लेकर पीड़ति व्यवसाई के साथ ही उनके परिजनों से भेंट की। व्यवसायी से मिलने के बाद उन्होंने कहा कि बिहार में हर हाल में राष्ट्रपति शासन (President Rule) लागू होना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि जिनके घर लूटपाट हुई है, वह राज्य को सबसे ज्यादा टैक्स (कर) देने वालों में से एक हैं। ऐसे में यदि यही लोग असुरक्षित हैं तो फिर प्रदेश में कारोबारी माहौल खराब होगा। सांसद ने राजधानी पटना में हुई लूटपाट पर कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा कि वह इस मामले को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Union Home Minister Amit Shah) से भी बात करेंगे। वहीं, उन्होंने बिहार में जहरीली शराब से हुई मौत को लेकर भी नीतीश सरकार पर जमकर निशाना साधा। 

उन्होंने कहा, 'इतना बड़ा कांड हो जाने के बाद भी हमारे मुख्यमंत्री पीड़ित के परिजन के पास नहीं जाते हैं। वह हमारे भी मुख्यमंत्री है, जो वोट नहीं दिया है, उनके भी मुख्यमंत्री है, उन्हें कम से कम पीड़ति के परिजनों के घर जाना चाहिए, जिससे लोगों में एक बेहतर संदेश जाएगा।' पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) पर तंज कसते हुए कहा कि मौजूदा स्थिति में बिहार में जंगलराज नहीं बल्कि महा जंगलराज है। उन्होंने कहा कि 15 साल पहले क्या था आज के युवा नहीं जानते लेकिन 16 साल आपके (श्री कुमार) हाथों में प्रदेश के युवाओं और लोगों ने दिया तो आपने क्या किया। 

उन्होंने कहा कि स्वर्ण व्यवसाई लूटकांड मामले को लेकर वह पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को कई बार फोन लगा चुके हैं लेकिन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने फोन नहीं उठाया। उनके लैंडलाइन नंबर पर भी फोन किया लेकिन किसी ने फोन का जवाब नहीं दिया।