चीनी सेना के जवानों का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें उनकी तैनाती भारतीय सीमा पर की गई है जिसकी वजह से वो रो रहे हैं। आपको बता दें कि इस समय लद्दाख में भारत और चीन के बीच जारी तनाव जारी है। दोनों देश इस दुर्गम इलाके में सर्दियां शुरू होने के बावजूद अपने सैनिकों की तैनाती को दिनोंदिन बढ़ा रहे हैं। इस बीच चीनी सेना के जवानों का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि ये सैनिक भारत सीमा पर अपनी पोस्टिंग होने से रो रहे हैं। इस वीडियो को पहले चीनी सोशल मीडिया वीचैट पर पोस्ट किया गया था लेकिन बेइज्जती होने के डर से चीनी प्रशासन ने इसे डिलीट कर दिया था।
ताइवान न्यूज की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि इस वीडियो को फूयांग रेलवे स्टेशन जाते समय बस में शूट किया गया था। सेना में भर्ती इन नये जवानों को यहां से ट्र्र्रेनिंग के बाद भारत से लगी सीमा पर पोस्टिंग के लिए भेजा जा रहा था। इन जवानों को पहले हुबेई प्रांत के एक मिलिट्री कैंप जाना था। वहां से इनकी पोस्टिंग भारतीय सीमा पर होनी थी।
इस वीडियो को पहली बार फूयांग सिटी वीकली के वीचैट पेज पर पोस्ट किया गया था। लेकिन, बाद में बेइज्जती के डर से जल्दी हटा दिया गया। फूयांग सिटी वीकली के पोस्ट में चीन के अनहुई प्रांत के फूयांग सिटी में स्थित यिंगझोउ जिले के रहने वाले इन 10 रंगरूटों को दिखाया गया था। ये वही रंगरूट थे जो इस वीडियो में रोते हुए दिखाई दे रहे हैं।
वीडियो में दिखाई दे रहे चीनी सेना के रंगरूट अभी कॉलेज स्टूडेंट हैं। इनकी टीम में से पांच जवान तिब्बत में सेवा करने के लिए स्वेच्छा से स्वंयसेवक भी रह चुके हैं। वीडियो में चीनी सैनिक लड़खड़ाती आवाज में चीनी सेना पीएलए का गीत ग्रीन फ्लॉवर्स इन द आर्मी गाते दिखाई दे रहे हैं। इस दौरान रोने के कारण उनके मुंह से आवाज नहीं निकल रही है।
गलवान में भारतीय सेना के साथ 15 जून को हुई भीषण झड़प के बाद से ही चीनी सेना में डर का माहौल है। उनके सैनिक भारतीय सैनिकों से भिड़ने से अब कतराते हुए दिख रहे हैं। इसका ताजा उदाहरण पैंगोंग झील के दक्षिणी हिस्से में देखने को मिला है। जहां भारतीय सेना ने सामरिक रूप से महत्वपूर्ण कई चोटियों पर कब्जा कर लिया है।