भारत-बांग्लादेश की सीमा के पास बंगाल में माल्दा जिले के मिलिक सुल्तानपुर से BSF ने चानी नागरिक को गिरफ्तार किया है। हान जुनवे नाम का ये चीनी नागरिक संदेहजनक तरीके से सीमा के पास घूम रहा था। वह बांग्लादेश का वीजा लेकर भारत आया था। इस चीनी नागरिक ने भारतीय सीमा को अवैध तरीके से पार किया था। उसके पास से कैमरा और लैपटॉप बरामद हुआ है।

बांग्लादेश के रास्ते अवैध रूप से भारत आने वाले दो रोहिंग्या गिरफ्तार
दो दिन पहले ही एंटी टेररिस्ट स्क्वायड (एटीएस) ने बांग्लादेश के रास्ते अवैध रूप से भारत आने वाले दो रोहिंग्या को गिरफ्तार किया था। दोनों को सोमवार शाम एटीएस की टीम ने गाजियाबाद से गिरफ्तार किया था। एटीएस के बयान के अनुसार नूर आलम और आमिर हुसैन मूल रूप से म्यांमा के रखाईन प्रांत के रहने वाले हैं जिनमें नूर आलम ने मेरठ जिले के दरबार लबर खास और आमिर हुसैन ने दिल्ली के खजूरी खास इलाके के गली नंबर छह, श्रीराम कालोनी में अपना ठिकाना बनाया था।

एटीएस के अनुसार हुसैन अवैध रूप से बांग्लादेश के रास्‍ते भारत में आया था। नूर आलम ने उसे भरोसा दिया था कि फर्जी दस्तावेजों के सहारे वह उसके भारतीय प्रपत्र बनवा देगा। इससे पहले जनवरी में अजीजुल्लाह नामक एक रोहिंग्या को गिरफ्तार किया गया था और एटीएस को उसके बहनोई नूर आलम उर्फ रफीक की तलाश थी। एटीएस के अनुसार नूर आलम ही मास्‍टर माइंड है जो रोहिंग्याओं को भारत लाने में सूत्रधार रहा है।