चीन ने अमेरिका को धमकी दी है कि वो एशिया महाद्वीप में खतरनाक दांव नहीं खेले। इस बात का खुलासा चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की ओर से नियंत्रित अखबार ग्लोबल टाइम्स ने कही है। इस अखबार ने अमेरिका के भीषण दबाव को स्वीकार किया है और कहा है कि अमेरिका दुनिया के बड़े देशों के बीच के रिश्तों को बर्बाद कर रहा है।
इस अखबार ने यह भी लिखा है कि अमेरिका दुनिया की बड़ी शक्तियों के बीच विरोध की स्थिति पैदा कर रहा है। इससे अंतरराष्ट्रीय संबंधों पर प्रभाव पड़ेगा और वैश्विकरण पर बुरा असर होगा।
ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि अमेरिका अपने लाभ के लिए भीषण जियोपॉलिटिकल (भूराजनैतिक) टूल का इस्तेमाल कर रहा है। चीन के साथ वैचारिक विवाद को खतरनाक स्तर पर ले जा रहा है। क्योंकि अमेरिका के लिए अपने सहयोगी देशों को चीन के खिलाफ खड़ा करने का ये सबसे आसान रास्ता है।
चीन के इस सरकारी अखबार ने कहा है कि अमेरिका उन सभी देशों का समर्थन कर रहा है जिनका चीन के साथ क्षेत्रीय विवाद रहा है। ऐसे देशों को अमेरिका चीन के खिलाफ कड़ा रुख तय करने के लिए भी उकसा रहा है और अन्य देशों के लोगों को इसके लिए तैयार कर रहा है कि वह चीन के साथ सहयोग न करें।