दुनिया का सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला देश चीन घटती आबादी की वजह से चिंता में आ गया है। अब चीन की सरकार जनसंख्या बढ़ाने के लिए नए-नए हथकंडे अपना रही है। इसके लिए चीन ने वन चाइल्ड पॉलिसी को हटाया था। लेकिन इसका कोई खास फायदा नहीं हुआ। चीन अब ने 3 बच्चे पैदा करने वाले कपल्स को कई तरह की सुविधाएं दे रहा है। इनके तहत माता-पिता को बेबी बोनस, सवेत​निक अवकाश, टैक्स में छूट, बच्चों के पालन-पोषण में सुविधाएं और कुछ अन्य लाभ दिए जा रहे हैं।

अब चीनी अधिकारी 3 बच्चे पैदा करने के लिए संगठनों और स्थानीय प्रशासन के जरिए माता-पिता को लुभाने के लिए लालच भी दे रहे हैं। बीजिंग डाबीनॉन्ग टेक्नोलॉजी ग्रुप अपने कर्मचारियों को 90,000 युआन तक नकद, 12 महीने तक की मैटरनिटी लीव और 9 दिनों के पैटर्नल लीव सहित कई ऑफर दे रहा है। इसके अलावा ऑनलाइन ट्रैवल कंपनी Trip.com ने भी कई अतिरिक्त लाभ देने की घोषणा की है।

सरकार और प्राइवेट कंपनियां ये सब सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के निर्देश पर कर रही हैं। यह पार्टी देश में युवाओं की कम होती आबादी और उससे देश के विकास पर पड़ने वाले असर से चिंतित है। इसके चलते राष्ट्रपति शी चिनफिंग का 2035 तक देश में उत्पादकों की मांग को दो गुना करने का लक्ष्य भी खटाई में पड़ने की आशंका है।


पिछले साल अगस्त में जनसंख्या एवं परिवार नियोजन कानून पारित किए जाने के बाद से चीन के 20 से अधिक प्रांतीय स्तर के क्षेत्रों ने अपने स्थानीय शिशु जन्म नियमों में संशोधन किये हैं। इसी के चलते पेइचिंग, शिचुआन और जियांक्सी सहित अन्य क्षेत्रों ने इस सिलसिले में कई सहायक उपायों की घोषणा की गई है। चीन की आबादी पिछले कई सालों से लगातार घट रही है।