भारत के चीन के 118 ऐप्स पर पाबंदी लगाए जाने के फैसले पर चीन ने आपत्ति जताई है और इस पक्षपातपूर्ण कदम करार दिया है। चीन के वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता गाो फेंग ने कहा, भारत चीनी कंपनियों पर पक्षपातपूर्ण प्रतिबंध लगा रहा है और भारत की यह कार्रवाई विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के प्रासंगिक नियमों के खिलाफ है। 

उल्लेखनीय है कि भारत ने राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताते हुए मशहूर गेमिंग ऐप पबजी सहित चीन के 118 ऐप्स पर बुधवार को पाबंदी लगा दी थी। भारत अब तक चीन के 224 ऐप्स पर प्रतिबंध लगा चुका है। इनमें से सबसे पहले 29 जून को भारत ने चीन के 59 ऐप्स को प्रतिबंधित किया था। इसके बाद 28 जुलाई के चीन के 47 ऐप्स पर पाबंदी लगाई थी। 

उन्होंने कहा, हमें उम्मीद है कि भारत कड़ी मेहनत से स्थापित किए गए द्विपक्षीय सहयोग और विकास के लिए चीन के साथ मिलकर काम करेगा, ताकि अंतरराष्ट्रीय निवेशकों और चीनी कंपनियों सहित अन्य सेवा प्रदाताओं के लिए एक खुला और उचित कारोबारी माहौल का निर्माण किया जा सके। उन्होंने कहा कि चीन-भारत आर्थिक और व्यापारिक सहयोग दोनों पक्षों के लिए परस्पर लाभकारी है।