आधुनिक तकनीकी में नेपाल और चीन दुनिया से कहीं आगे है। नेपाल में ऐसी ऐसी तकनीक है जिसके बारे में ख्याल भी नहीं आता है। सारी दुनिया आधुनिकता की ओर बढ़ रही है। इसी तरह से विमानों की बात करें तो हाल ही में खबर मिली है कि चीन ने एक ऐसा विमान तैयार किया है जो आवाज से भी 30 गुना ज्यादा तेजी से उड़ सकता है। इतना तेज की जब वो गुजरे तो दिखाई भी ना दें।


चीनी हाइपरसोनिक सुरंग


चीन तकनीकी में सबसे आगे निकलने के लिए हाइपरसोनिक तकनीक को विकसित कर रहा है। हाइपरसोनिक वो तकनीक है जिसमें कोई चीज आवाज से भी कई गुना तेजी से काम कर सकें। बता दें कि कई देश हाइपरसोनिक मिसाइलें बना रहे हैं और चीन ने हाल ही में हाइपरसोनिक सुरंग बनाई डाली है। JF-22 विंड टनल के नाम से सामने आया ये टनल कथित तौर पर जेट को ध्वनि से 30 गुना तेजी (23,000 mph) से संचालित कर सकेगा।

चीन के मुख्य शोधकर्ता हान गुइलई ने बताया है कि हाइपरसोनिक टनल बीजिंग के Huairou जिले में तैयार हुई है। साथ ही उनके मुताबिक इस तकनीक से चीन वेस्ट से 20 से 30 साल आगे निकलने वाला है। उन्होंने कहा कि टनल में विमान कथित तौर पर प्रति सेकंड 10 किलोमीटर तक की स्पीड पकड़ सकता है। इस लिहाज से विमान हर घंटे लगभग 37,013 किलोमीटर की दूरी तय कर सकता है। रूस और अमेरिका ने हाइपरसोनिक जेट पर भारी निवेश किया हुआ है और काफी आगे भी निकल चुके हैं।