बीजिंग। डोकलाम विवाद के बीच गुरुवार को चीन ने भारत में रह रहे अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी की। भारत में चीनी दूतावास की ओर से जारी एडवाइजरी में कहा गया, अपनी निजी सुरक्षा का ध्यान रखें। प्राकृतिक आपदाओं, रेल दुर्घटनाओं और संक्रामक बीमारियों से खुद को सुरक्षित रखें। चीन ने दो महीने के भीतर दूसरी बार अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी की है। इससे पहले 7 जुलाई को बीजिंग ने एडवाइजरी जारी की थी। यह एडवाइजरी एक माह के लिए वैध थी। चीन ने दूसरी एडवाइजरी उस वक्त जारी की है जब डोकलाम विवाद पर चीनी मीडिया की ओर से भारत के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। 

चीनी सरकार के एक अधिकारी ने कहा था, भारत में हमारे दूतावास ने अपने नागरिकों को सेफ्टी एडवाइजरी जारी की है। इसमें कहा गया है कि वे भारत में अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें। जब तक बहुत जरूरी ना हो वहां की यात्रा ना करें। एडवाइजरी में चीनी नागरिकों को सलाह दी गई थी कि भारत में वो अपने लोकल पुलिस स्टेशन या चीनी दूतावास के संपर्क में रहे। साथ ही भारत में मौजूद चीनी नागरिक ट्रैवल के वक्त पहचान पत्र साथ रखें और इसकी जानकारी परिवार और दोस्तों को भी दें। चीनी नागरिक भारत के कानून और धार्मिक रीति रिवाजों का ध्यान रखें। 

यह चेतावनी इस साल के आखिर तक वैध रहेगी। भारत और चीन के बीच पिछले 2 महीने से सिक्किम क्षेत्र के डोकलाम को लेकर विवाद चल रहा है। यह विवाद 16 जून को उस वक्त शुरू हुआ जब भारतीय सैनिकों ने चीन के सैनिकों को डोकलाम में सड़क बनाने से रोक दिया था। तब से दोनों देशों की सेनाएं आमने सामने है। हालांकि चीन का कहना है कि वह अपने इलाके में सड़क बना रहा है। जिस इलाके को लेकर विवाद है उसका भारत में नाम डोकाला है जबकि भूटान में इसे डोकलाम कहा जाता है चीन दावा करता है कि ये उसके डोंगलांग रीजन का हिस्सा है। 

भारत-चीन का जम्मू कश्मीर से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक 3488 किलोमीटर लंबी सीमा है। इसका 220 किलोमीटर हिस्सा सिक्किम में आता है। नई दिल्ली ने बीजिंग से कहा है कि डोकलाम में चीन के सड़क बनाने से इलाके की मौजूदा स्थिति में अहम बदलाव आएगा, जो भारतीय सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा है। रोड लिंक से चीन को भारत पर एक बड़ी मिलिट्री एडवान्टेज हासिल होगी। इससे पूर्वोत्तर राज्यों को भारत से जोडऩे वाला कॉरिडोर चीन की जद में आ जाएगा। लिहाजा भारत ने डोकलाम से अपनी सेना शर्त वापस बुलाने की चीन की मांग खारिज कर दी है।