चीन की हरकतों पर दुनियाभर की नजरें बराबर बनी रहती हैं। अब अमरीका के एक टॉप कमांडर ने अपने देश के सांसदों से कहा कि चीन अभी भी एलएसी पर कई हिस्सों से पीछे नहीं हटा है। ये वो जगह है जहां चीन ने सीमा पर विवाद के दौरान कब्जा कर लिया था। 

यूएस इंडो-पैसिफिक कमांड के कमांडर एडमिरल फिलिप्स डेविडसन ने कांग्रेस की सुनवाई के दौरान सीनेट की आम्र्ड सर्विसेज कमेटी के सदस्यों को ये जानकारी दी। डेविडसन ने अमेरिका में सीनेट की सुनवाई के दौरान टिप्पणी में कहा, पीएलए ने अभी तक सीमा विवाद के बाद घेरे गए कई आगे के पोस्ट से अपने कदम पीछे नहीं लिए हैं। 

हालांकि चीनी और भारतीय सेना ने लद्दाख में पैंगोंग के आसपास विवादित सीमा के कुछ हिस्सों से अपने-अपने सैनिकों को वापस ले लिया है, लेकिन पैंगोंग क्षेत्र में एलएसी के पास विवाद के बाद, गोगरा-हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र, देमचोक और देपसांग मैदानों में अन्य विवादों पर कोई प्रगति नहीं हुई है। उन्होंने कहा- चीन ने दबाव बढ़ाने के लिए और पूरे क्षेत्र में अपने प्रभाव का विस्तार करने के लिए एक आक्रामक सैन्य रुख अपनाया है। चीन की विस्तारवादी महत्वाकांक्षाएं पश्चिमी सीमा पर दिख रही हैं जहां उसके सैनिक भारतीय सैन्य बलों के साथ गतिरोध में शामिल हैं। सीमा संघर्ष के लिए डेविडसन ने चीन को जिम्मेदार ठहराया।