चीन ने बड़ा ऐलान किया है कि वो कोरोना वायरस के खिलाफ टीके संबंधी गठबंधन 'कोवैक्स' में शामिल हो रहा है। चीन में कोरोना वायरस के टीके के तीन उम्मीदवार क्लीनिकल परीक्षण के तीसरे चरण में है।

चीन के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि देश ने गठबंधन का सह-नेतृत्व कर रहे 'गावी' के साथ समझौते पर गुरुवार को हस्ताक्षर किए। शुरुआत में, चीन गठबंधन में शामिल होने पर सहमत नहीं था। वह गठबंधन में शामिल होने की अंतिम सीमा तक इसमें शामिल नहीं हुआ था।

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने एक बयान में कहा, "हम खासकर विकासशील देशों को टीकों का समान वितरण सुनिश्चित करने के लिए ठोस कदम उठा रहे हैं और उम्मीद करते हैं कि और सक्षम देश कोवैक्स से जुड़ेंगे एवं इसे समर्थन देंगे।

समझौते की शर्तें अभी स्पष्ट नहीं हैं और यह भी जानकारी नहीं है कि चीन इसमें कैसे योगदान देगा। इससे पहले, चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा था कि चीन विश्व के लोगों की भलाई के लिए टीका बनाएगा।

इस गठबंधन को इसलिए बनाया गया है, ताकि अमीर देश संभावित टीका खरीदने पर सहमत हों और गरीब देशों तक इसे मुहैया कराने में मदद करे। अमेरिका ने इस गठबंधन में शामिल होने से इनकार कर दिया है।