यदि आप भी अपने बच्चों का आधार कार्ड बनवा रहे हैं तो पहले ये खबर पढ़ लें क्योंकि, Child Aadhaar Card नियम बदल चुके हैं। आज के समय में 5 साल के कम उम्र के बच्चों के लिए भी आधार कार्ड बनवाया जाता है। इसको बाल आधार कार्ड कहा जाता है। लेकिन इसके लिए आवेदन करने के नियम अलग से बनाए गए हैं।

आधार जारी करने वाली संस्था UIDAI ने बच्चों के लिए जारी करने वाले आधार कार्ड में कुछ खास बदलाव किए हैं। बच्चों के माता-पिता अब बाल आधार कार्ड के लिए बर्थ सर्टीफीकेट या उस अस्पताल की जारी पर्ची जमा कर आवेदन कर सकते हैं।


यह भी पढ़ें— जगदगुरु परमहंस आचार्य ने Hindu Rashtra को लेकर कर दिया इतना बड़ा ऐलान


बायोमेट्रिक की नहीं जरूरत
UIDAI के नियम के मुताबिक, 5 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए आंखों की रेटिना और हाथ के पंजों उंगलियों का फिंगर प्रिंट देने की अब जरूरत नहीं होगी। UIDAI ने 5 साल से कम उम्र वाले बच्चों के लिए अब बायोमेट्रिक की जरूरत को हटाने का निर्णय लिया है। अब इसकी जरूरत तभी होगी जब बच्चा पांच वर्ष का हो जाएगा। वहीं, इसके बाद सामान्य आधार कार्ड की तरह ही बच्चे का कार्ड हो जाएगा।

आवेदन के लिए जरूरी हैं ये दस्तावेज
पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर आईडी, ड्राइविंग लाइसेंस, नरेगा जॉब कार्ड, राशन कार्ड की जरूरत आपको आवेदन के दौरान पड़ेगी।

बाल आधार के लिए ऐसे करें आवेदन

सबसे पहले यूआईडीएआई की वेबसाइट पर जाएं

यहां आपको आधार कार्ड पंजीकरण के ऑपशन को चुनें और बच्चे से जुड़ी जानकारी को भरें

पता, इलाका, राज्य को दर्ज करें और आवेदन को जमा करें

रजिस्ट्रेशन शेड्यूल करने के लिए अपॉइंटमेंट ऑपशन पर क्लिक करें

जारी की गई डेट पर जाकर बाल आधार कार्ड बना लें