त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने राज्य के सभी राजनीतिक दलों से हिंसा रोकने की अपील की है।मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी, चाहे उनकी राजनीतिक पहचान कुछ भी हो।

बिप्लब देब ने कहा कि लोकसभा चुनाव का कार्यक्रम घोषित होने के बाद से राज्य में हिंसा के 186 मामले दर्ज किए गए हैं, लेकिन राजनीतिक हत्या की कोई खबर नहीं मिली है। मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने अपने आवास पर पत्रकारों से कहा, राज्य में राजनीतिक हिंसा की पुरानी परंपरा रही है। हम चाहते हैं कि यह बंद हो। इन्हें रोकना अकेले प्रशासन के बस में नहीं है। अगर सभी पार्टियां आगे आती हैं, तो ही इस खतरे को रोका जा सकता है। मैं सभी राजनीतिक दलों से हिंसा को रोकने में सहयोग की अपील करता हूं।

उन्होंने कहा कि बीजेपी राजनीतिक बदले की भावना में यकीन नहीं रखती। भारतीय जनता पार्टी की राज्य इकाई के प्रमुख बिप्लब ने कहा, हमारी सरकार अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी, चाहे उनकी राजनीतिक पहचान कुछ भी हो और मैं यह भी देखना चाहूंगा कि बीजेपी का कोई भी कार्यकर्ता राजनीतिक हिंसा में शामिल न हो।