गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव सुनील कुमार बरनवाल की अगुवाई में सात सदस्यीय अंतरमंत्रालयी एक टीम ने भीषण चक्रवाती तूफान यास से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए ओडिशा के बालासोर तथा भद्रक जिलों में प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। यह केन्द्रीय दल रविवार शाम यहां पहुंचा था और आज सुबह मुख्य सचिव एस सी महापात्रा तथा विशेष राहत सचिव पी के जेना से मुलाकात के बाद बालासोर तथा भद्रक रवाना हो गया। 

केन्द्रीय टीम ने बालासोर जिले में सोरो, चांदीपुर और बहानागा ब्लाकों, भद्रक जिले के धरामा ब्लाक का दौरा किया और जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मुलाकात की। यह टीम कल मंगलवार को केन्द्रपाड़ा और मयूरभंज का दौरा कर सकती है। गौरतलब है कि चक्रवाती तूफान यास बालासोर तट से 26 मई को टकराया था और इसकी वजह से इसने राज्य के तटीय क्षेत्रों में भारी तबाही मचाई थी। 

इस चक्रवाती तूफान के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तत्काल ही राज्य के प्रभावित क्षेत्रों के लिए 500 करोड़ रूपए की वित्तीय सहायता की घोषणा की थी। ओडिशा सरकार ने एक अनुमान में कहा है कि चक्रवाती तूफान से राज्य को लगभग 610 करोड़ रूपए का नुकसान हुआ है और बालासोर, भद्रक, मयूरभंज तथा केन्द्रपाड़ा जिलों में 11 हजार गांव और 60 लाख से अधिक लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।