देश में जारी टीकाकरण अभियान की समीक्षा को लेकर हुई एक बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण भी शामिल हुए।  इसके बाद उन्होंने बैठक में कोरोना वैक्सीनेशन के संबंध में लिए गए फैसलों पर चर्चा की।  भूषण ने कहा कि राज्य सरकारों को यह सुनिश्चित करना होगा कि जिन लाभार्थियों ने कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक ली है, उन्हें दूसरी खुराक भी प्राथमिकता से दी जाए। 

लाभार्थियों को टीके की दूसरी खुराक देने पर जोर

उन्होंने बताया कि बैठक में दूसरी खुराक की प्रतीक्षा कर रहे लाभार्थियों की बड़ी संख्या को संबोधित करने की तत्काल जरूरत पर बल दिया गया।  भूषण ने आगे कहा, सभी राज्य लाभार्थियों को टीके की दूसरी खुराक देने पर जोर दें, जो उन्हें भारत सरकार की तरफ से निशुल्क भेजी जा रही है।  अपने लोगों को वैक्सीन की दूसरी खुराक देने लिए राज्य कम से कम 70 प्रतिशत टीके रिजर्व कर सकते हैं और शेष 30 फीसदी वैक्सीन को पहली खुराक के आरक्षित कर सकते हैं।