रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) ने भारतीय वायुसेना प्रमुख (Indian Air Force Chief) एयर चीफ मार्शल वी.आर. चौधरी को तमिलनाडु में सैन्य विमान दुर्घटनास्थल (Helicopter Crash) पर पहुंचने के लिए कहा है, जहां बुधवार को चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत को ले जा रहा हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त (Cds Bipin Rawat Helicopter Crash) हो गया।

रक्षा मंत्री सिंह (Rajnath Singh)  भी स्थिति की निगरानी कर रहे हैं और रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक चल रही है। रक्षा मंत्री ने दुर्घटना के बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) को भी जानकारी दी है। तमिलनाडु के कुन्नूर में एक सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें जनरल बिपिन रावत (Cds Bipin Rawat) पत्नी और टीम के साथ व्याख्यान देने के लिए वेलिंगटन जा रहे थे। इस हादसे में हताहतों की संख्या अभी भी अज्ञात है। स्थानीय पुलिस ने अभी तक केवल तीन को बचाए जाने की जानकारी दी है। अन्य लोगों की तलाश जारी है।

जनरल रावत  (Cds Bipin Rawat) के साथ उनकी पत्नी मधुलिका रावत, ब्रिगेडियर एल.एस. लिद्दर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, नायक गुरसेवक सिंह, नायक जितेंद्र कुमार, नायक विवेक कुमार, नायक बी. साई तेजा, हवलदार सतपाल और पायलट शामिल हैं। हेलिकॉप्टर में जनरल रावत की उपस्थिति की पुष्टि करते हुए, भारतीय वायु सेना (Indian Air Force) ने ट्वीट किया, एक भारतीय वायुसेना का एमआई17 वी5 हेलीकॉप्टर, सीडीएस जनरल बिपिन रावत के साथ, आज तमिलनाडु के कुन्नूर के पास एक दुर्घटना का शिकार हो गया। सेना ने कहा कि दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के आदेश दे दिए गए हैं। बचाए गए लोगों को गंभीर चोटें आईं और उन्हें वेलिंगटन छावनी ले जाया गया है।