उत्तर प्रदेश में गोरखपुर की एक लड़की से शादी करने वाली एक ट्रांसजेंडर के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया गया है। यह पूरा मामला गोरखपुर का है। जहां युवती के पिता ने ट्रांसजेंडर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराया है। गोरखपुर पुलिस ने ट्रांसजेंडर की पहचान पूजा उर्फ अंकित के रूप में की और आगे की जांच के लिए उसे गोरखपुर ले गई। ट्रांसजेंडर की पत्नी को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

ट्रांसजेंडर और लडक़ी ने हालांकि पुलिस के सामने कहा कि वे वयस्क हैं, उन्होंने अपनी इच्छा के अनुसार शादी की है और साथ रहना चाहते हैं। ट्रांसजेंडर ने कहा कि दिल्ली में सेक्स रिअसाइनमेंट सर्जरी से पहले उसका प्रारंभिक उपचार चल रहा है। जांच अधिकारी दीन बंधु ने बताया कि भगेलू प्रसाद ने ट्रांसजेंडर के खिलाफ मामला दर्ज कर उस पर अपनी बेटी को लालच देने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, जांच के दौरान, यह पता चला कि भगेलू प्रसाद और बलबीर सिंह यादव का परिवार, जो ट्रांसजेंडर के पिता हैं, अच्छे दोस्त थे और अक्सर एक-दूसरे से मिलने जाते थे।

ट्रांसजेंडर की मां राजेश्वरी ने संवाददाताओं को बताया कि बच्ची और गोरखपुर की लडक़ी वयस्क हैं और उन्होंने अपनी मर्जी से शादी की है। यह शादी 20 जुलाई को हुई थी। उन्होंने कहा कि दिल्ली में विशेषज्ञ डॉक्टरों की देखरेख में उनके ट्रांसजेंडर बच्चे के लिंग परिवर्तन की प्रक्रिया चल रही है। पुलिस ने कहा कि पूरे मामले की अभी जांच की जा रही है।