लाखों की राशि गबन करने वाले कछार जिला परिषद के कनिष्ठ सहायक तथा प्रभारी लेखापाल रज्जाद अहमद बरभुंया को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है। 

बरभुंया पर राष्ट्रिय सामाजिक सहायता योजना के तहत मिले तीन करोड़ 52 लाख 12 हजार 467 रूपय बैंक से सुनियोजित तरीके से निकाल लिया है जिसके कारण 40 हजार 990 लोगो को पेंशन नहीं मिल सकेगी। 

वहीँ चतुर्थ वित्य आयोग के तहत मिली एक करोड़ 59 लाख 42 हजार राशि भी आत्मसात करने का आरोप साबित हो गया है. बरभुंया पर लगे आरोप साबित होने के बाद राज्य सरकार ने पिछले 17 सितम्बर को उन्हें नौकरी से बर्खास्त करने का निर्देश देने के साथ साथ गबन की गयी राशि वसूलने की लिए सीआईडी को इसकी जिम्मेवारी दी है। 

घोटाले में बरभुंया का साथ देने वाले अन्य कर्मचारियों की भूमिका की जांच की जा रही है और दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ कानून सम्मत कार्रवाई की जाएगी।