भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की केंद्रीय चुनाव समिति की शनिवार शाम को हुई बैठक में करीब 12 राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेशों की लोकसभा सीटों पर प्रत्याशियों के नामों पर चर्चा हुई। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजीजू पहुंचे।


अंतिम सूचना मिलने तक बैठक जारी थी। भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति ने शनिवार को बिहार, उत्तराखंड, असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, त्रिपुरा, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मीर और अंडमान निकोबार के उम्मीदवारों पर चर्चा की। बैठक के बाद पार्टी के लोकसभा प्रत्याशियों की पहली सूची जारी की जा सकती है।

इस सूची में अधिकांश प्रत्याशी 11 अप्रैल को होने वाले पहले चरण के चुनाव क्षेत्रों के होने की संभावना है। चुनाव आयोग के कार्यक्रम के मुताबिक, 11 अप्रैल को पहले चरण में 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे। दूसरे चरण में 18 अप्रैल को 13 राज्यों की 97 सीटों के लिए मतदान होगा। तीसरे चरण में 14 राज्यों की 115 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे।


चौथे चरण में 29 अप्रैल को नौ राज्यों की 71 सीटों के लिए मतदान होगा। पांचवें चरण में छह मई को सात राज्यों की 51 लोकसभा सीटों पर मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। छठा चरण 12 मई को होगा जिसमें सात राज्यों की 59 लोकसभा सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे। सातवें चरण का मतदान 19 मई को होगा जिसमें आठ राज्यों की 59 सीटों के लिए वोटिंग होगी। सभी सीटों पर मतगणना 23 मई को होगी!