कनाडा और यूनाइटेड स्टेट्स पैसिफिक नॉर्थवेस्ट में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी की लहर से वैंकूवर में कम से कम 69 लोगों की मौत हो गई है। ऐसा रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस (आरसीएमपी) का मानना है। आरसीएमपी ने बताया कि पिछले 24 घंटों में वैंकूवर के बर्नाबी और सरे शहर में मरनेवालों में ज्यादातर बुजुर्ग या अंतर्निहित स्वास्थ्य स्थितियों वाले लोग थे। आरसीएमपी के कॉर्पोरल माइकल कलांज ने बयान में कहा कि अभी जांच की जा रही है, लेकिन अधिकांश मौतों में गर्मी की वजह सामने आई है। स्थानीय नगर पालिका ने कहा है कि उनको भी सोमवार से अचानक मौत की कई कॉलों आई है।

जलवायु परिवर्तन के कारण रिकॉर्ड तापमान लगातार बढ़ रहा है। विश्व स्तर पर 2019 में सबसे गर्म दर्ज की गई थी। सोमवार को कनाडा के ओटावा में तापमान 47.9 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। ब्रिटिश कोलंबिया के प्रीमियर जॉन होर्गन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा ब्रिटिश के लोगों ने अब तक का सबसे गर्म सप्ताह देखा है। इस गर्मी के परिणाम परिवारों और समुदायों के लिए विनाशकारी रहे हैं। उन लोगों की जाँच की जा रही है, जिन्हें इस बदलते मौसम से दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

कनाडा के पर्यावरण विभाग ने ब्रिटिश कोलंबिया, अल्बर्टा, और सास्काचेवान, मैनिटोबा, युकोन और उत्तर पश्चिमी क्षेत्रों के कुछ हिस्सों के लिए अलर्ट जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि लंबे समय तक, खतरनाक और गर्मी की लहर इस सप्ताह तक बनी रहेगी।

यूएस नेशनल वेदर सर्विस ने भी इसी तरह की चेतावनी जारी की है। यूएस नेशनल वेदर सर्विस ने कहा कि लोगों को ठंड़ी जगह पर रहना चाहिए, बाहर निकले से बचे, खूब पानी पीने और परिवार के सदस्यों व पड़ोसियों की जाँच करें। इतनी गर्मी के कारण स्कूलों और कोविड -19 टीकाकरण केंद्रों बंद कर दिया गया है, जबकि अधिकारियों ने कई जगह पर पानी का फव्वारा स्थापित किया है। कनाडा में बढ़ती गर्मी को देखते हुए स्कूल-कालेज बंद कर दिए गए हैं।